Loading...

शिवराज सरकार से खफा अतिथि शिक्षकों ने किया हल्लाबोल का ऐलान | ATITHI SHIKSHAK NEWS

सीधी। राजधानी भोपाल में सेवा नियमितीकरण की मांग को लेकर अतिथि शिक्षकों का आनदोलन एक बार बुधवार से होने वाला हैं। जिसमे लगभग जिले से हजारों की तदात मे अतिथि शिक्षक कल भोपाल के लिये रवाना होगे। अतिथि शिक्षको ने सरकार  अल्टीमेटम देते हुए फिर भोपाल में जंगी प्रदर्शन का ऐलान किया। सरकार की नीतियों से व्यथित अतिथि शिक्षकों ने इस बार आर या पार का  फैसला लिया है।

जिला अध्यक्ष रविकांत गुप्ता ने बताया कि राजधानी के शाहजाहानी पार्क में अतिथि शिक्षक एक ही संघ के बैनर तले जिलेभर से वहाँ पहुंचकर हजारों अतिथि शिक्षक धरना देंगे। उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने अतिथि शिक्षको को कठपुतली समझकर नाच नचा रही है कही आनलाइन के नाम पर तो कही अपमान करके। मध्यप्रदेश के शासकीय ​स्कूलों में पढ़ाने वाले अतिथि शिक्षकों ने अब शिवराज सिंह सरकार को अल्टीमेटम दे दिया है। नियमितीकरण की मांग कर रहे अतिथि शिक्षकों को इस साल तो नियुक्तियां तक नहीं मिलीं हैं। 15 जून से शुरू हुआ शिक्षण सत्र लगातार आगे बढ़ रहा है। कई स्कूल केवल अतिथि शिक्षकों के सहारे हैं और अतिथि शिक्षक नियुक्ति आदेश का इंतजार कर रहे थे। अतिथि शिक्षक संघ के सचिव राकेश मिश्रा बात करते हुए कहा कि विगत दस वर्षों से प्रदेश के अतिथि शिक्षक मानसिक शोषण का शिकार हो रहे हैं। उन का आरोप है कि प्रदेश के अकुशल श्रमिक को 265 रुपए प्रतिदिन एवं मनरेगा श्रमिकों को 165 रुपए दिए जा रहे हैं, लेकिन अतिथि शिक्षकों को इनसे भी कम 100 रुपए की राशि का भुगतान किया जा रहा है।

उन्होंने ने कहा कि अपने लंबित मांगों को पूरा करने के लिए अतिथि शिक्षकों ने कई बार सरकार के सामने गुहार लगाई, लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंगी। अब यदि सरकार ने अतिथि शिक्षकों की मांगों को पूरा नहीं किया, तो प्रदेश का संपूर्ण अतिथि शिक्षक अनिश्चित कालीन आन्दोलन करेगा।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com