Loading...

पिता फर्जी नियुक्ति मामले में जेल गए थे, बेटी पर ड्रग सप्लाई की FIR

भोपाल। लक्ष्मी नारायण मेडिकल कॉलेज (एलएन मेडिकल कॉलेज) के एमबीबीएस के सेकंड ईयर छात्र यश पाठे सुसाइड केस में मेडीकल छात्रा शेफाली शर्मा की बहन श्रुति शर्मा का नाम सामने आया है। पुलिस ने उसे एफआईआर में नामजद किया है। आरोप है कि श्रुति कॉलेज में ड्रग सप्लाई का काम करती थी और पैसों के लिए लड़कों को ब्लैकमेल करती थी। बता दें कि श्रुति, विधानसभा के पूर्व सचिव सत्यनारायण शर्मा की बेटी है। ये वही सत्यनायण शर्मा है जो फर्जी नियुक्ति मामले में जेल गए थे। आरोप है कि दिग्विजय सिंह शासनकाल में उन्होंने फर्जी नियुक्ति हासिल की। इनके साथ अवर सचिव कमलकांत शर्मा को भी गिरफ्तार किया गया था। 

ड्रग सप्लाई करती थी श्रुति, यश को नंगा करके पिटवाया था
लक्ष्मी नारायण मेडिकल कॉलेज (एलएन मेडिकल कॉलेज) के एमबीबीएस के सेकंड ईयर छात्र यश पाठे खुदकुशी मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। श्रुति ने यश के साथ 11 जून को ड्रग्स ली थी। नशे में दोनों का विवाद हुआ। अगले दिन श्रुति अपने दोस्तों के साथ यश के कमरे पर पहुंची और उसे पीटवाया और नग्न कर वीडियो बनाया। इससे यश डिप्रेशन में आ गया। भोपाल से बैतूल लौटकर 13 जून की रात फांसी लगाकर जान दे दी। आरोप यह भी है कि श्रुति ने ही यश को ड्रग की लत लगवाई थी। 

शालिनी, श्रुति को बैकअप देती थी
पुलिस ने यश सुसाइड मामले में आरोपी गौरव दुबे और आकाश सोनी को गिरफ्तार किया है। जबकि शालीन उपाध्याय, कार्तिक खरे और श्रुति की गिरफ्तारी बाकी है। गौरव ने बताया कि वह शालीन उपाध्याय का दोस्त है। तीनों ने इसी साल 12वीं की परीक्षा पास की है। हम केवल शालीन के कहने पर श्रुति के साथ गए थे और फंस गए। इसी तरह की खबरें नियमित रूप से पढ़ने के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com