भय्यूजी महाराज का सुसाइड नोट, 6 लाइन में दर्ज मौत का कारण

12 June 2018

इंदौर। दुनिया भर के तनाव दूर कर देने वाले अध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने मंगलवार को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। भय्यूजी महाराज ने अपनी आत्महत्या का कारण तनाव और परेशानियां बताया है। उनकी मौत के बाद उनका 6 लाइन का सुसाइड नोट सामने आया है। लक्झरी लाइफ, 2 शादियां और राजनीतिक पकड़ के साथ भय्यूजी महाराज के पास वो सबकुछ था लोग जिसके सपने देखते हैं। अब सवाल यह गूंज रहा है कि आखिर वो कौन सा तनाव था जिसने सरकारों के राजनीतिक तनाव दूर करने वाले भय्यूजी महाराज को सुसाइड करने के लिए बाध्य कर दिया। 

भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। अस्पताल पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो गई थी। उनका एक सुसाइड नोट भी सामने आया है। इसमें छह लाइन लिखी हुई है। लिखा है- मैं काफी तनाव में हूं और परेशान हूं, मैं जा रहा हूं। मेरे पीछे परिवार को देखने के लिए कोई यहां होना चाहिए। बता दें कि मध्य प्रदेश सरकार ने कुछ महीने पहले ही उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा देने की पेशकश की थी, जिसे उन्होंने ठुकरा दिया था।  सीएसपी जयंत राठौर के अनुसार भय्यू महाराज ने सिल्वर स्प्रिंग स्थित उनके घर में खुद को गोली मारी। उनके सिर पर गोली लगी थी। बॉम्बे हॉस्पिटल के डॉ. राहुल पराशर के मुताबिक भय्यू महाराज को जब अस्पताल लाया गया, उससे आधा घंटे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी। उन्हें दाईं कनपटी पर गोली लगी थी।

पहली पत्नी की मौत के दो साल बाद की थी दूसरी शादी

भय्यूजी महाराज की पहली पत्नी माधवी का नवंबर 2015 में पुणे में निधन हो गया था। वे महाराष्ट्र के औरंगाबाद की रहने वाली थीं। पहली शादी से उनकी एक बेटी कुहू हैं, वो पुणे में पढ़ाई कर रही हैं। 30 अप्रैल 2017 को मध्यप्रदेश के शिवपुरी की डॉ. आयुषी के साथ दूसरी शादी की थी। बताया जा रहा है कि इन्हीं दोनों रिश्तों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। 
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->