Loading...

तानों से तंग धर्मगुरू ने भक्तों के बीच गुप्तांग काट दिया

जयपुर। देश भर में करीब एक दर्जन प्रख्यात साधु-संतों पर महिलाओं के प्रति यौन अपराध के आरोप लगे हैं। लोग इस बहाने देश के हजारों साधु-संतों पर उंगलियां उठाने लगे हैं। लोग किसी पर तंज कसने से पहले यह जानने की कोशिश तक नहीं करते कि संबंधित व्यक्ति कौन है और उसका व्यक्तिगत व्यवहार कैसा है। ऐसे ही तानों से तंग आकर एक धर्मगुरू ने अपना स्वच्छ चरित्र प्रमाणित करने के लिए अपने भक्तों के बीच रात्रि जागरण कार्यक्रम के दौरान अपना गुप्तांग काट दिया। 

आप सभी धर्मगुरूओं पर संदेह नहीं कर सकते
दरअसल कार्यक्रम में कुछ लोगों ने स्थानीय धर्मगुरु और मंदिर के पुजारी को आसाराम, राम रहीम, फलहारी बाबा ओर दाती महाराज का ताना दे दिया। लोगों के ताने से तंग आकर आश्रम के गुरु जी के नाम से मशहूर पुजारी अनिल पुरोहित ने इस हरकत को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि सभी साधु-संतों और धर्मगुरुओं को शक की निगाह से नहीं देखा जाना चाहिए। फिलहाल धर्मगुरु अनिल अस्पताल में भर्ती हैं और उनकी हालत स्थिर बनी हुई है।

बाबाओं की हरकतों से काफी तनाव में थे धर्मगुरू
पुजारी के इस हरकत के बाद जागरण में अफरातफरी मच गई। पुजारी को बेहोशी की हालत में  भक्त अस्पताल लेकर गए। हालत गंभीर होने के कारण डॉक्टरों ने पुजारी को जयपुर रेफर कर दिया. फिलहाल पुजारी का जयपुर के अस्पताल में इलाज चल रहा है। सूत्रों के अनुसार लोगों ने बताया कि पुजारी अनिल पुरोहित कई दिनों से परेशान नजर आ रहे थे। वो बाबाओं पर महिलाओं से रेप के मामले दर्ज होने से नाराज थे। प्रत्यक्षदर्शी मोतीलाल ओर धर्मपाल ने बताया कि धर्मगुरु अनिल पुरोहित को कुछ भक्तों ने आसाराम ओर राम रहीम जैसे धर्मगुरु होने का ताना दे दिया था। इससे गुरुजी नाराज हो गए। जिसके बाद उन्होंने ऐसा कदम उठाया।
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com