BHOPAL: आहूतियो के साथ ब्रह्म समागम का आरक्षण स्वाहा आंदोलन शुरू | MP NEWS

06 May 2018

भोपाल। बह्म समागम जनकल्याण समिति ने आरक्षण के विरोध में चूना भट्टी चौराहा काली मंदिर के सामने, भोपाल आरक्षण के विरोध में हवन यज्ञ किया। यज्ञ में 51 पंडितों ने 05 हवन कुंडों में 01 क्विंटल हवन सामग्री से लोगो से आहूति दिलवाई। समिति के प्रदेशाध्यक्ष धर्मेन्द्र शर्मा का कहना है कि ब्रह्म समागम जनकल्याण समिति देश से आरक्षण हटाने के लिए चुनिंदा वकीलों से संपर्क साध रही है। समिति के सदस्य मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ, राजस्थान चुनाव से पहले गांव और शहरों में घर घर जाकर आरक्षण के विरोध में दस लाख ब्राह्मणों से 10 रुपए के स्टाम्प पर शपथ पत्र भरवाकर हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेंगे। 

पंडित धर्मेन्द्र शर्मा ने कहा कि राजधानी भोपाल में आरक्षणाय स्वाहा मंत्र.. के साथ आंदोलन शुरु हो गया है। इसके बाद ब्रह्म समागम जनकल्याण समिति देश की राजधानी दिल्ली में आरक्षण स्वाहा करने आंदोलन खडा करेगी। इसके लिए सभी संगठनों से चर्चा शुरु हो गई है। बह्म समागम सभी स्वर्ण संगठनों को एक साथ मंच पर लाकर आने वाले समय में विधानसभा का घेराव भी करेगी। ताकि देश के प्रतिभाशाली युवाओं को सम्मान मिल सके।

आरक्षण को हटाने लिया संकल्प
ब्रह्म समागम समिति के सदस्यों ने 51 पंडितों के साथ भगवान हनुमान की प्रतिमा के समक्ष पूजा पाठ कर आंदोलन की शुरुआत की। मंत्रोचारण और विधि विधान से पूजा अर्चना के बाद सदस्यों ने सामूहिक प्रार्थना कर आरक्षण को हटाने का संकल्प लिया। प्रदेश सचिव जितेन्द्र पाठक ने कहा कि जब तक देश से आरक्षण समाप्त नही होगा नौकरियो में प्रतिभाओं को मौका नही मिल पायेगा। इसलिए सरकार को आरक्षण नीति में बदलाव पर विचार करना चाहिए।   

विशेष जडी बूटियों से दी यज्ञ में आहूती
हवन यज्ञ में  मॉ बगुला मुखी और बटुक भैरव हनुमान जी के मंत्रोंच्चारण के साथ लाल मिर्च, काली मिर्च, नमक, नीम की पत्ती, सरसो, आंवला और लाल बट्ट के तेल सहित अनेक प्रकार की विशेष जडी बूटियों से बनी हवन सामग्री की आहूती दी गई जिससे देश और प्रदेश के राजनेताओं को सद्बुद्धी आये और वे देश से आरक्षण को पूरी तरह से समाप्त करे। अध्यक्ष पं. धर्मेन्द्र शर्मा ने कहा कि अब सरकार को सरकारी नौकरी, स्कूल, कालेज, चुनावी राजनीति से आरक्षण को पूरी तरह से समाप्त कर देना चाहिए। नौकरियों और चुनाव में चयन व्यक्ति की योग्यता होना चाहिए।

काले गुब्बार छोडकर जताया विरोध
हवन यज्ञ के बाद  समिति के सदस्यो ने आसमान में काले गुब्बारे छोडकर आरक्षण का विरोध जताया। समिति के सदस्य प्रहलाद शुक्ला ने बताया कि आरक्षण की वजह से ब्राह्मण, स्वर्ण युवाओं का भविष्य अंधकारमय हो रहा है। शासन प्रशासन के हर विभाग में आरक्षण की वजह से अयोग्य व्यक्ति उच्च पद प्राप्त कर लेता है। लेकिन वह उस पद के साथ न्याय नही कर पाता। इसलिए सरकार को आरक्षण की नीति में बदलाव कर सभी जातियों को आर्थिक आधार पर आरक्षण का लाभ देना चाहिए। जिससे सभी समाजो की उभरती प्रतिभाओं को सम्मान मिल सके और वे अपनी योग्यता के बल पर नौकरियों में पद लाभ ले सकें।

शंख बजाकर आरक्षण के खिलाफ फूंका बिगुल
आरक्षण हटाओ, देश बचाओं.... प्रतिभाओं के सम्मान में ब्रह्म समागम मैदान में... आरक्षणाय स्वाह... आरक्षण नीति में बदलाव जरुरी है.... नारे लिखी तख्तियां हाथो में लेकर ब्रह्मणों ने एक साथ शंख बजाकर आरक्षण के खिलाफ बिगूल फूंका । इसके बाद ब्रह्मणों ने  

ये हुए शामिल
हवन यज्ञ में पंडित प्रहलाद शुक्ला, पुष्पेन्द्र मिश्रा, पंडित चंद्रशेखर तिवारी, रोहणी शर्मा, नीतू शर्मा, निवेदिता शर्मा, पीसी शर्मा, रचना पाठक, टीका राम शर्मा, अशोक शर्मा, अतुल श्री महाराज, अनुप चौबे, रामबहौरी शुक्ला, राशिमी पांडे, राजेश मिश्रा, अर्चना पाठक, रक्षा दुबे, रामनारायण अवस्थी, उपाध्यक्ष अशोक भारद्वाज, कौशल त्यागी, अपूर्व दुबे, यशवंत दुबे गंजबासौदा, त्रिलोक शर्मा विदिशा, राजेन्द्र भार्गव बैरसिया, जीतू तिवारी सीहोर, आदित्य उपाध्याय ऊरई, विनोद कुमार मिश्रा, राकेश व्यास, ममता शर्मा, ममता शुक्ला, रागनी शर्मा, माला दुबे, किरण सिंह राठौर जिलाध्यक्ष करणी सेना, मनोज मिश्रा  विवेक शास्त्री, अभिशेख शर्मा, पंडित जितेन्द्र शर्मा, पंडित अभिशेख दुबे, पंडित जय दुबे, पंडित राजेन्द्र भार्गव, पंडित त्रिवेंद्र, पंडित घनश्याम शास्त्री, पंडित राजेश शऱ्मा, पंडित ब्रजेश शास्त्री, राहुल सिंह राठौर, विकास सिंह वघेल, कृपाल सिंह ठाकुर, पंडित अपूर्व दुबे, सोनू दुबे, शानू दुबे, उदित तिवारी, सीताराम शर्मा, प्रीतम कुशवाहा, प्रेम सिंह दांगी, रघुवीर सिंह रघुवंशी, राजाराम, अजय वर्मा, सुशील झा, मांगीलाल आर्य, नरेश मेवाडा भाटी, शिराज खान, सोहेल खान, बशीर, अरविंद  सहित समिति के पदाधिकारी और बडी संख्या में आरक्षण का दंश झेल रहे सभी सामाजिक संगठनों के लोग शामिल होंगे।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Popular News This Week