न्यूज पोर्ट्ल्स की आजादी में दखल नहीं देगी सरकार: सूचना-प्रसारण मंत्री

16 May 2018

नई दिल्ली। सूचना-प्रसारण मंत्री का पदभार संभालते ही राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने मंगलवार को मीडिया की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कहा कि मीडिया लोकतंत्र का बेहद महत्वपूर्ण स्तंभ है और उन्हें आत्म अनुशासन करना होगा। मीडिया के आत्म विनियमन पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि उनका मंत्रालय मीडिया को जनता की आवाज बनाने के लिए कार्य करेगा, फिर चाहे वह प्रसार भारती हो अथवा निजी नेटवर्क या चैनल। हम इसी दिशा में काम करेंगे। दरअसल उन्होंने ‘सरकार बनाम मीडिया’ की बहस के संबंध में सवाल का जवाब देते हुए यह बात कही।

जब उनसे इस बारे में पूछा गया कि स्मृति ईरानी के कार्यकाल में सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने पिछले महीने न्यूज पोर्ट्ल्स और मीडिया वेबसाइट्स के नियमन के लिए एक समिति गठित करने का आदेश दिया था, इस पर वे क्या कहना चाहेंगे तो उन्होंने इस तरह की खबरों को खारिज करते हुए कहा कि सरकार की न्यूज पोर्ट्ल्स और मीडिया वेबसाइट्स के नियमन की कोई योजना नहीं है। मुझे लगता है कि आपने इसे गलत समझ लिया। राठौड़ ने कहा कि सरकार मीडिया के आत्म विनियमन में विश्वास रखती है।

राठौड़ ने संवाददाताओं को बताया, ‘प्रधानमंत्री मोदी भी इस बात को लेकर बेहद स्पष्ट हैं कि हमारे देश में मीडिया लोकतंत्र का बेहद महत्वपूर्ण स्तंभ है और उन्हें आत्म अनुशासन करना होगा। उन्होंने इस दौरान प्रसार भारती को सशक्त किए जाने की भी बात कही। उन्होंने कहा इसके लिए बेहतर व सूचनात्मक कार्यक्रमों को उच्च प्राथमिकता दी जाएगी।

राठौड़ ने कहा कि सरकार पिछले चार वर्षों में देश की जनता के साथ द्विपक्षीय संचार स्थापित करने में कामयाब रही है। हम इसे जारी रखेंगे। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पूरी तरह से स्वतंत्र हैं। हम उम्मीद करते हैं कि लोग जिम्मेदारी के साथ अपने विचार रखेंगे। गौरतलब है कि अभी तक सूचना प्रसारण मंत्री का पदभार स्मृति ईरानी संभाल रहीं थी, लेकिन अब उनसे यह जिम्मेदारी लेकर इसी मंत्रालय में राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को स्वतंत्र रूप से सौंपी गई है। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week