संविदा कर्मचारी हड़ताल बंद करो, इसी महीने महापंचायत ​बुला लूंगा: शिवराज सिंह | EMPLOYEE NEWS

Sunday, April 1, 2018

भोपाल। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर के नेतृत्व में प्रदेश के सभी विभागों के संविदा कर्मचारियों का एक प्रतिनिधि मंडल आज रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से निवास पर जाकर मिला। म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इस बात का धन्यवाद भी दिया कि उनके द्वारा प्रदेश में संविदा कल्चर समाप्त करने की बात कही गई है और संविदा कर्मचारियों का जो शोषण संविदा के नाम पर किया जा रहा है उसके दंश से जल्दी ही मुक्ति दिलाई जायेगी। इसलिए जल्दी ही संविदा कर्मचारियों के लिए संविदा महापंचायत बुलाई जाए। इस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आंगनबाडि़यों की महापंचायत के पश्चात् अप्रैल माह में ही संविदा कर्मचारियों की महापंचायत मैं बुलाऊंगा आप निश्चिंत रहें और आंदोलन हड़ताल वगैरह ना करें। हम ही संविदा कर्मचारियों को नियमित करेंगें। 

गौरतलब है कि मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के द्वारा 1 नवम्बर 2017 से संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण और हटाये गये संविदा कर्मचारियों को नियमित किए जाने के लिए चरणबद्ध आंदोलन चलाया था। जिसके तहत् म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ ने 1 नवम्बर को काली पट्टी बांधकर कार्यालयों में काम किया। 5 नवम्बर 2017 को राजधानी भोपाल के अम्बेडकर मैदान में धरना दिया था। 10 नवम्बर से 20 नवम्बर तक दाण्डी यात्रा निकाली गई । 22 नवम्बर को मुख्यमत्री शिवराज सिंह चौहान ने मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रतिनिधि मंडल को बुलाकर नियमित किए जाने का आश्वासन दिया था। जिसमें उनके द्वारा नव वर्ष पर संविदा कर्मचारियों को तोहफा देने की बात की गई थी। 

उसके बाद नव वर्ष पर संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ ने सरकार का ध्यानाकर्षण करने के लिए मंत्रालय पर काले गुब्बारे छोड़े गये, 23 जनवरी को मंत्रालय तक रैली निकाली गई। 5 फरवरी को घंटीबजाकर सरकार को जगाया। 10 फरवरी को सभी विधायकों और मंत्रियों के निवास के सामने सुंदर कांड किया। 5 मार्च को मुख्यमंत्री के जन्म दिवस के अवसर पर संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रतिनिधि मंडल को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुलाकर कहा कि 10 मार्च को फिर से संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रतिनिधि मंडल को बुलाकर कहा था कि मैं जल्दी ही संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण की घोषणा करूंगा। 

मुख्यमंत्री के घोषणा के बाद म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के द्वारा 16 मार्च से होने वाली अनिश्चित कालीन हड़ताल स्थगित कर दी गई थी। हड़ताल के स्थान पर 16 मार्च को अम्बेडकर मैदान में संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ का एक दिवसीय सम्मेलन बुलाया था। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week