Loading...

DELHI: 11वीं की छात्रा, 10 दिन तक हुई हैवानियत का शिकार | CRIME NEWS

नई दिल्ली। उत्तर दिल्ली के अमन विहार से हैवानियत की ऐसी खबर आ रही है जो किसी की भी रूह कंपा देने के लिए काफी है। एक बदमाश ने 11वीं की छात्रा को गन पाइंट पर लेकर किडनैप किया और फिर सारा दिन यहां वहां घुमाता रहा। रात को अपने घर में ले गया और मुंह में कपड़ा ठूंसकर बेल्ट और लोहे के तार से बेरहमी से पीटा और बलात्कार किया। सुबह उसने छात्रा के हाथ-पैर बांधे, मुंह में कपड़ा ठूंस और घर की टांड पर फैंक दिया। रात को आकर फिर बेरहमी से पीटा और बलात्कार किया। यह सिलसिला लगातार 10 दिन तक चलता रहा। 11वें दिन किस्मत से छात्रा के हाथ खुल गए और भागने में सफल हो गई। चौंकाने वाली बात तो यह है कि छात्रा के परिजन पुलिस के पास पहुंचे परंतु पुलिस ने मामला तक दर्ज नहीं किया। 

तमंचे के बल पर उठाया
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कक्षा 11वीं की छात्रा इस हैवान ने उस वक्त तमंचे के बल पर उठा लिया, जब वो परचून की एक दुकान से सामान लेने गई थी। उठाने के बाद आरोपी कुलदीप उसे दिन भर बाहर घुमाता रहा और रात के समय चुपचाप अपने ही घर की तीसरी मंजिल पर ले गया। उसने छात्रा के हाथ-पैर बांध दिये। इसके बाद उसने उसे बेल्ट और लोहे की तार से पीटा। पीटने के बाद वासना में अंधे हैवान ने उसके साथ कई बार बलात्कार किया।

रात भर युवती के साथ बलात्कार करने के बाद सुबह वह लड़की को कमरे की टांड़ पर हाथ-पैर बांध कर और मुंह में कपड़ा ठूंसकर डाल देता और खुद अपने काम से निकल जाता। वह रात को नशे में आता और आने के बाद लड़की को फिर से पीटता और फिर पूरी रात रेप करता। मुंह में कपड़ा होने के कारण छात्रा चीख भी नहीं पाती थी।

पुलिस ने FIR तक नहीं लिखी
दूसरी ओर लड़की के परिजन भी परेशान थे। छात्रा के गायब होने के बाद उन्होंने कई जगह उसकी तलाश किया, पर वो नहीं मिली। पुलिस थाने में भी कोई कार्रवाई नहीं हुई, न ही FIR लिखी गई। उन्हें कुलदीप पर पहले से ही शक था, क्योंकि छात्रा को वह अक्सर परेशान करता था। उन्होंने उसके घर पर भी पता किया लेकिन वहां से भी उन्हें कोई सुराग नहीं मिला। वो लगातार अपनी बेटी को ढूंढ रहे थे। अचानक दसवें दिन छात्रा अमन विहार अपने घर पर पहुंची। 

जान से मारने की धमकी
घर पहुंचने के बाद जैसे ही मां ने उसे देखा, वो सबकुछ समझ गई। छात्रा की हालत बहुत खराब थी। जगह-जगह चोट के निशान थे। भूख और प्यास से बदहाल युवती की मां घबरा गई और उन्होंने तुरंत उसके पिता को फोन किय़ा। इसी बीच मां के पानी पिलाने और थोड़ा सामान्य होने पर छात्रा ने सारी बात मां और पिता को बताई। जिसके बाद अमन विहार पुलिस ने मामला दर्ज कर उसे जय गांधी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। आरोपी कुलदीप अभी तक फरार है। कुलदीप लगातार परिवार को जान से मारने की धमकी भी दे रहा है।