बांग्लादेश में आरक्षण समाप्त, संसद में पीएम ने किया ऐलान | BANGLADESH NEWS

12 April 2018

नई दिल्ली। आरक्षण विरोधी प्रदर्शन के चलते बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने आज सरकारी नौकरियों में आरक्षण को पूरी तरह से समाप्त करने का ऐलान कर दिया। उन्होंने संसद में बयान दिया। कहा ​कि यदि छात्र नहीं चाहते तो आरक्षण समाप्त किया जाता है। बता दें कि पिछले कई दिनों से छात्र आरक्षण के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने राजधानी ढाका के मुख्य मार्गों को जाम कर दिया था। पुलिस के बल प्रयोग में 100 से ज्यादा छात्र घायल हो गए थे, फिर भी वो मोर्चे पर डटे हुए थे। 

विशेष समूहों के लिए आरक्षित नौकरियों वाली विवादित नीति के खिलाफ देश भर में हजारों छात्रों द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद इसे वापस ले लिया गया। ढाका में छात्रों की भीड़ ने मुख्य मार्गों को बंद कर दिया जिससे यातायात व्यवस्था चरमरा गई।

हाल के दिनों में ढाका विश्वविद्यालय में हुई झड़प में 100 से ज्यादा छात्र गैस और रबड़ की गोली से घायल हो गए थे। विश्वविद्यालय में आज पुलिस तैनात की गई थी।

प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सरकारी नौकरियों में आरक्षण समाप्त करने की घोषणा की। उन्होंने संसद में एक बयान में कहा, “आरक्षण प्रणाली समाप्त की जाएगी क्योंकि छात्र इसे नहीं चाहते हैं। प्रत्यक्ष तौर पर नाराज प्रधानमंत्री ने कहा, “छात्रों ने काफी प्रदर्शन कर लिया, अब उन्हें घर लौट जाने दें।

हालांकि प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार उन लोगों के लिए नौकरियों में विशेष व्यवस्था करेगी जो विकलांग हैं या पिछड़े हुए अल्पसंख्यक तबके से आते हैं।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts