खबर का असर: गरीबों को बंटने जा रहा 25000 बोरे घटिया चावल रिजेक्ट | BALAGHAT NEWS

Sunday, April 8, 2018

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। जिले में समर्थन मूल्य पर खरीदी गई धान को कस्टम मिलिंग के जरिये चावल बनाने की प्रक्रिया में नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा उपार्जित किये जाने वाले चावल की आड़ में अमानक स्तर का चावल लेने की शिकायत से जुडे़ समाचारों को निगम के प्रबंध संचालक श्री नरवाल ने गंभीरता से लिया है।इसी तारत्मय में 7 अप्रैल को प्रबंध संचालक श्री नरवाल के निर्देश पर भारतीय खादय निगम तथा निगम के गुणवत्ता नियंत्रक के एक संयुक्त जांच दल ने बालाघाट में भण्डारित किये ये श्रीजी एग्रो के 7 स्टेग जिसमें लगभग 22680 बोरे तथा श्रीराम पारबाईलिंग बालाघाट का 1 स्टेग जिसमें 3240 बोरे थे जिनका निरीक्षण एवं परीक्षण किये जाने पर निर्धारित मापदण्ड एवं गुणवत्ता के विपरित अमानक स्तर का पाये जाने पर रिजेक्ट कर दिये गये है।

उल्लेखनीय है कि श्रीजी एग्रो नेवरगांव द्वारा गत माह में लगभग 100 लाट चावल की आपूर्ति की है जो अमानक एवं अखादय स्तर का है। इसकी शिकायत विधायक श्री मधू भगत द्वारा खादय मंत्रालय नई दिल्ली एवं प्रधानमंत्री सचिवलाय को प्रेषित की थी उन शिकायतों के आधार पर कार्यवाही किये जाने के निर्देश प्रदेश के खादय विभाग को प्राप्त हुये है।

यह उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व श्रीजी एग्रो नेवरगांव द्वारा प्रदाय किये गये चावल के 6480 बोरे अमानक पाये जाने पर रिजेक्ट कर दिये गये है जिसे जिला प्रबंधक द्वारा चांवल बदलकर मानक स्तर का गुणवत्तायुक्त चांवल प्रदाय करने के निर्देश दे जा चुके है 5 दिन के अंदर चांवल बदलकर दिये जाने के निर्देश के बावजूद आज तक चांवल बदलकर नही दिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के अनेक स्थानों में अमानक स्तर का चावल निगम के गुणवत्ता परीक्षक एवं राईस मिलर्स की सांठगांठ से उपार्जित कर भण्डारित कर दिया गया है जो उपभोग के काबिल ही नही है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week