INDIA के खिलाफ सिखों को आतंकवादी बना रहा है पाकिस्तान: गृहमंत्रालय | NATIONAL NEWS

Wednesday, March 21, 2018

नई दिल्ली। भारत में हमले कराने के लिए पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई सिख युवकों को आतंकी ट्रेनिंग दे रही है। यह जानकारी गृहमंत्रालय ने दी है। इसके मुताबिक, कनाडा और अन्य जगहों पर रह रहे सिखों को भारत के खिलाफ गलत और झूठी जानकारी दी जा रही है। इन युवकों को दुर्भावनापूर्ण प्रोपेगेंडा में शामिल कर भारत के खिलाफ तैयार किया जा रहा है। इतना ही नहीं पंजाब की जेलों में आने वाले नए कैदियों एवं बेरोजगारों को भी इसमें शामिल किया जा रहा है। पाकिस्तान में सिख आतंकवादियों के लिए संगठन तैयार किया गया है जो ट्रेनिंग दे रहा है। 

गृह मंत्रालय के अफसरों ने भाजपा सांसद मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता वाले संसदीय पैनल को बताया कि आतंकी संगठन सिख युवाओं में इंटरनेट और सोशल मीडिया के जरिए कट्टरता बढ़ा रहे हैं। ये एक बड़ी चुनौती है। कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल और आंतरिक सुरक्षा एजेंसियों ने सोमवार को पार्लियामेंट में पेश किए दस्तावेजों में कहा कि पिछले दिनों पाकिस्तान में सिख आतंकी संगठनों में बढ़ोत्तरी देखी गई है।

आतंकी गतिविधि बढ़ाने का दबाव डाल रहा ISI
रिपोर्ट के मुताबिक, आईएसआई आतंकी संगठनों के कमांडरों और खुफिया एजेंसियों पर पंजाब सहित पूरे देश में आतंकी गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए दबाव डाल रही है। इसलिए सिख युवकों को आईएसआई द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है। खुफिया जानकारी के मुताबिक, जेल में आए नए कैडरों, बेरोजगार युवकों, अपराधियों और तस्करों को पाकिस्तान के सिख आतंकी संगठन में आतंकी हमलों के लिए शामिल किए जा रहे हैं।

मामले पर एजेंसियों की नजर
रिपोर्ट के मुताबिक, यूरोप, यूएस और कनाडा में रह रहे सिखों को भारत के खिलाफ एक झूठे प्रोपेगेंडा के तहत तैयार किया जा रहा है। देश की एजेंसियां पाक के आतंकी संगठनों लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद समेत इंडियन मुजाहिदीन और सिमी पर नजर बनाए हुए हैं और जरूरत पड़ने पर कार्रवाई करेंगी। होम मिनिस्ट्री ने ये भी बताया कि लेफ्ट विंग समर्थित आतंकवाद से अभी भी देश के अंदर खतरा बना हुआ है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week