इस बार रिकॉर्ड तोड़ गर्मी पड़ेगी, हेल्थ और स्किन को ऐसे बचाएं | HEALTH AND BEAUTY TIPS

29 March 2018

भोपाल। मौसम विशेषज्ञों ने डराने वाली सूचना दी है। इस बार रिकॉर्ड तोड़ गर्मी पड़ेगी। पिछले कई दिनों से शहर का अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस से अधिक तक पहुंच गया है। इस महीने के अंत तक तापमान के 40 डिग्री तक पहुंचने के आसार हैं। रोज़ाना कुछ दिनों से सुबह सूरज चढ़ते के साथ ही गर्मी में भी इजाफा होता जा रहा है। गर्म हवा के थपेड़ों ने दिन में पड़ने वाली गर्मी का अहसास करा दिया। ऐसे में हर कोई जानना चाहता है कि गर्मी के मौसम में अपने स्वास्थ्य और सौदर्य को कैसे बचाएं। HOW TO SAVE HEALTH AND BEAUTY IN SUMMER. आइए हम बताते हैं कुछ सरल और आसान से टिप्स: 

गर्मी से सौंदर्य को बचाने के घरेलू उपाय

सादा पानी आपकी त्वचा को तरोताजा रखता है। आप अगर बहुत थकान महसूस कर रहे हैं तो पानी के छीटों से आप फ्रेश महसूस करेंगे।
एक बोतल में आप परफ्यूम की थोड़ी सी बूँदों के साथ ज्यादा मात्रा पानी मिला लें। स्प्रे बोतल की तरह इसका इस्तेमाल करें, इससे आप रिफ्रेश महसूस करेंगे।
खीरे के जूस को आप चेहरे पर लगाएं, यह प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र की तरह काम करता है। इससे चेहरे पर ठंडक महसूस होगी और आप सनबर्न की समस्या से बचे रहेंगे।
पिसी हुई चंदन, तुलसी और गुलाब आदि नेचुरल चीजें लगाने से गर्मी में राहत मिलती है। 
धूप से आने के कुछ घंटों बाद मुल्तानी मिट्टी और चंदन पाउडर लगाने से आपकी त्वचा को ठंडक महसूस होगी।
घमौरियां हो जाने पर नीम और तुलसी का पेस्ट लगाना फायदेमंद होता है। 
गुलाब की पत्तियों को पानी में भिगोकर उस पानी से चेहरा धोने पर गर्मी के मौसम में त्वचा मुलायम बनी रहती है।
चेहरे पर पीसी हुई चंदन और खीरे के जूस के साथ दो-तीन बूंद ग्लिसरीन की बूंदें और गुलाब जल मिलाकर उसका लेप लगाने पर भी राहत मिलती है।

हेल्थ को बचाने के लिए क्या करें

गर्मी के मौसम में खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। पेट की खराबी और अधिक तैलीय व मसालेदार खाद्य-पदार्थों का सेवन करने से पाचन-क्रिया प्रभावित होती है। इससे अनेक बीमारियां हो सकती हैं।
गर्मी में अधिक शुष्कता के कारण शरीर में जल की मात्रा कम हो जाती है। इसकी पूर्ति के लिए बार-बार जल और जलीय पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
धनिए को पानी में भिगो लें फिर उसे अच्छी तरह मसल लें और छानकर उसमें थोड़ी सी शकर मिला लें। इसे पीने से गर्मियों में राहत मिलती है।
इमली के बीज को पीसकर उसे पानी में घोलकर कपड़े से छान लें। इस पानी में शक्कर मिलाकर पीने से गर्मी में राहत मिलती है।
जहां तक हो सके गर्मियों में विटामिन ए युक्त फ्रूस्टी जैसे ब्लैक ग्रेप्स, हरे पत्ते वाली वेजिटेबल्स, विटामिन सी से युक्त रसीले फ्रूट्स जैसे आम, खट्टे फ्रूट्स और नींबू पानी लेने चाहिए।
इस मौसम में दही, मौसमी ताजे फल जैसे संतरा, पपीता, स्ट्रॉबेरी, ग्रेप का जूस ज्यादा से ज्यादा पीये। ये हेल्दी होने के साथ-साथ शरीर को अंदर से ठंडा रखने में सहायक होते हैं।
बेल का शरबत गर्मी के लिए बहुत उत्तम माना जाता है। गर्मी में मोटापा घटाने में भी यह सहायक होता है।
नारियल में प्रचूर मात्रा में पौष्टिक तत्व होते है। गर्मी में इसका सेवन सबसे अच्छा होता है।
नीबू की शिकंजी गर्मी के लिए बहुत अच्छा पेय है। इसे घर में आसानी से तैयार किया जा सकता है।
पुदीने में प्राकृतिक रूप से पिपरमिंट पाया जाता है, इसलिए गर्मी में यह बहुत उपयोगी होता है। लू, बुखार, शरीर में जलन और गैस की तकलीफ को दूर करता है।
किसी भी तरह की अपच,अजीर्णता, पित्त की अधिकता, पेट दर्द, गैस में जलजीरा लाभकारी होता है।
पूरे उत्तर भारत में गर्मी के मौसम में ठंडाई का उपयोग खूब होता है।
गर्मी के मौसम में जीरा-नमक डालकर छांछ पीना भी फायदेमंद होता है।

हालांकि घरेलू उपचार प्रकृतिक होते हैं और इनके साइडइफैक्ट्स की आशंका न के बराबर होती है, फिर भी किसी भी चीज को उपयोग करने से पहले अपनी त्वचा के प्रकार को जान लें। हो सके तो इस बारे में किसी एक्सपर्ट से भी सलाह ले लें।


-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Popular News This Week