विधायक हेमंत कटारे के मोबाइल ने किया चौंकाने वाला खुलासा

08 March 2018

भोपाल। माखनलाल यूनिवर्सिटी की एक छात्रा से रेप और उसकी मां के अपहरण के मामले में आरोपी हेमंत कटारे के मोबाइल फोन की जांच रिपोर्ट ने नया खुलासा किया है। इसके बाद कटारे मुश्किल में फंस सकते हैं। जांच में पता चला है कि मोबाइल को कुछ इस तरह से फार्मेट किया गया कि अब उसका डेटा रिकवर नहीं किया जा सकता। बता दें कि छात्रा ने खुलासा किया था कि हेमंत कटारे में मोबाइल में उसके कई ऐसे फोटो, वीडियो और कॉल रिकॉर्डिंग हैं, जिसके आधार पर वो उसे ब्लैकमेल कर सकता है। पुलिस को संदेह है कि कटारे ने वो सारा डेटा किसी सुरक्षित स्थान पर छुपा लिया है। 

जर्नलिज्म स्टूडेंट से रेप के मामले में हेमंत कटारे का मोबाइल फोन अहम सबूत माना जा रहा था। क्राइम ब्रांच ने कटारे से जांच के लिए उनका मोबाइल मांगा था परंतु उन्होंने इसे पुलिस को सौंपने में काफी देरी की। बाद में इस मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी ने मोबाइल फोन को सेंट्रल फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (सीएफएसएल) भेजा था। भोपाल पुलिस के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीएफएसएल की भोपाल ब्रांच में हुई जांच में खुलासा हुआ है कि मोबाइल फोन को सात बार फॉर्मेट किया गया था। इस वजह से मोबाइल फोन से डेटा रिकवर नहीं हो सका है।

मोबाइल फोन जब्त करने के बाद छात्रा और कटारे के मोबाइल के कंटेंट का मिलान किया जाना था। छात्रा ने दावा किया था कि कटारे के मोबाइल फोन में उसकी निजी तस्वीरें और संदेश है। साथ ही इस मामले के खुलासे के बाद कई वीडियो वायरल हुए थे। इन वीडियो की सत्यता की पुष्टि के लिए भी मोबाइल फोन की जांच किया जाना जरूरी थी।

इस बीच अब छात्रा के वाइस सैंपल लिए जाएंगे। एसआईटी ने छात्रा को गुरुवार को महिला थाना तलब किया है। छात्रा के कई वीडियो और ऑडियो वायरल हुए थे। वायरल हुए वीडियो और ऑडियो में छात्रा की ही आवाज है, उसके मिलान के लिए गुरुवार को छात्रा के वाइस सैंपल लिए जाएंगे।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->