1 अप्रैल से आयकर वाले कर्मचारियों के वेतन में होगा बड़ा बदलाव | EMPLOYEE NEWS

Thursday, March 29, 2018

नई दिल्ली। इस साल के बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आम आदमी को टैक्स के मोर्चे पर बड़ी राहत नहीं दी है. टैक्स स्लैब्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है. लेक‍िन आपकी सैलरी में एक बड़ा बदलाव किया गया है, जो 1 अप्रैल से प्रभावी हो जाएगा. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बार बजट में स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन की वापसी की घोषणा की है. हर वेतनभोगी को 40 हजार रुपये का स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन मिलेगा. यह मिलने पर आपको कितना फायदा होगा या नुकसान. इसे आगे समझ‍िए.

क्या होता है स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन:
स्टैंडर्ड डिडक्शन आपकी आय का वो हिस्सा होता है, जिस पर आपको कोई टैक्स नहीं देना होता है. यही नहीं, इस छूट का फायदा उठाने के लिए आपको किसी भी तरह के दस्तावेज भी नहीं दिखाने होते हैं.

आपसे ये छीना: 
नए वित्त वर्ष में जहां स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन का फायदा आपकी सैलरी में जुड़ जाएगा. वहीं, ट्रांसपोर्ट अलाउंस के 19200 रुपये और मेडिकल अलाउंस के तौर पर मिलने वाले 15 हजार रुपये का फायदा हट जाएगा.

कितना होगा फायदा? 
स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन की तुलना मेडिकल अलाउंस और ट्रांसपोर्ट अलाउंस के साथ करें, तो आपको पहले इन दोनों की बदौलत 34200 रुपये का फायदा मिलता था. वहीं, स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन आपको 40 हजार का मिलेगा. इस तरह ऊपरी तौर पर इसका फायदा आपको 5800 रुपये (34200-40 हजार ) के तौर पर मिलेगा. हालांक‍ि जब आप इसकी तुलना कुल टैक्स देनदारी और एजुकेशन सेस से करेंगे, तो 5800 रुपये का ये फायदा भी काफी कम हो जाता है.

मौजूदा समय में 2.5 लाख रुपये तक की इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगता है.  2.5 लाख से 5 लाख की इनकम पर 5 फीसदी, 5 लाख से 10 लाख की सालाना कमाई पर 20 फीसदी और इससे ज्यादा की कमाई पर 30 फीसदी टैक्स लगता है.

ऐसे समझ‍िए:
अगर आप 5 फीसदी वाले टैक्स स्लैब में आते हैं, तो आपको 290 रुपये का फायदा स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन के तौर पर मिलेगा. आप 20 फीसदी टैक्स स्लैब वाले हैं, तो 1160 रुपये का फायदा आपको मिलेगा. वहीं, अगर आप 30 फीसदी वाले टैक्स स्लैब में हैं, तो आपको 1740 रुपये का फायदा होगा.

उदाहरण: 
मान लीजिए कि आपकी कुल टैक्सेबल इनकम 5 लाख रुपये है. इसमें 40 हजार स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन घटा दें, तो आपकी कुल टैक्सेबल इनकम 460000 रुपये हो जाएगी. इस तरह आपको इस रकम पर 5 फीसदी टैक्स देना होगा.

कुल 460000 की आय पर आपको 5 फीसदी के हिसाब से 10500 रुपये का टैक्स भरना होगा. कुल टैक्स का 4 फीसदी एजुकेशन सेस भी आपको इसमें कैल्कुलेट करना होगा. इस तरह आपको पूरा टैक्स 10920 (10500 + 420) चुकाना होगा.

मौजूदा व्यवस्था में: 
फिलहाल आपको स्टैंडर्ड डिडक्शन नहीं मिलता, लेकिन आपको मेडिकल और ट्रांसपोर्ट अलाउंस के तौर पर 34200 रुपये मिलते हैं. इसके हिसाब से अगर आपकी कुल टैक्सेबल इनकम 5 लाख है. इसमें 34200 रुपये घटा देंगे, तो आपकी कुल टैक्सेबल इनकम बनती है 465800 रुपये.

इस पर 5 फीसदी के हिसाब से टैक्स लगने पर आपको 10790 रुपये टैक्स के तौर पर चुकाने होंगे. इस टैक्स की रकम में 3 फीसदी एजुकेशन सेस जुड़ेगा. इस तरह आपको कुल टैक्स 11113.7 रुपये चुकाने होंगे.

महज 193 रुपये का फायदा:इस तरह आप देखेंगे तो मौजूदा व्यवस्था के मुकाबले स्टैंडर्ड ड‍िडक्शन के आ जाने से आपको 193.7 रुपये का फायदा होगा. इसी तरह आप अन्य टैक्स स्लैब वालों को होने वाले फायदे की गणना भी कर सकते हैं.

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week