INDORE: इकबाल से लवमैरिज के बाद रितू ने शुरू किया था ठगी का धंधा | CRIME NEWS

27 February 2018

इंदौर। पुलिस ने रितु उर्फ लवली पिता महेश यादव को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि रितु अखबार में JOB दिलाने का विज्ञापन देकर युवक-युवतियों से रुपए ऐंठने का काम करती थी। वह बीकॉम की छात्रा भी है। रितू लोगों को देवास और पीथमपुर की बड़ी-बड़ी कंपनियों में नौकरी दिलाने का वादा करती थी और 10 हजार रुपए तक प्लेसमेंट फीस लेती थी, परंतु पैसा मिलते ही सिम बदल लेती थी। पुलिस ने उसके पास से करीब 500 बेरोजगारों के दस्तावेज और कार बरामद की है। रितू की इस अपराध में उतरने की कहानी भी अजीब है। उसने इकबाल नाम के युवक से लवमैरिज की थी। इकबाल ने ही उसे ठगी के धंधे में शामिल किया। फिर इकबाल ने उसे छोड़ दिया। अब वो अकेले ही ठगी करके गुजर बसर कर रही थी। 

एएसपी (क्राइम ब्रांच) अमरेंद्र सिंह ने बताया कि अनिता पिता बाबूसिंह भदौरिया निवासी पल्हर नगर (एरोड्रम) की शिकायत पर रितु उर्फ लवली पिता महेश यादव निवासी वैभव नगर (कनाड़िया) को गिरफ्तार किया गया है। अनिता ने बताया कि 2 फरवरी को उसने स्थानीय समाचार-पत्र में बंपर नौकरी का विज्ञापन देखा था। इसके लिए मोबाइल नंबर पर संपर्क करने को कहा गया था। कॉल करने पर महिला ने फोन उठाया और अगले दिन दस्तावेज सहित 7 हजार रुपए लेकर एलआईजी चौराहा स्थित ऑफिस पर बुलाया। कार्यालय के बजाय रितु अपनी कार में बैठी मिली। एक गली में ले जाकर उसने सुपरवाइजर की नौकरी दिलाने के नाम पर रुपए और मार्कशीट सहित अन्य दस्तावेज ले लिए।

पते पर मिला खाली प्लॉट
एएसपी ने बताया अनिता ने दोबारा रितू से संपर्क किया तो उसका मोबाइल नंबर बंद मिला। इसके बाद उसने वी केयर फॉर यू में शिकायत की। नंबर की जांच में सामने आया कि नंबर रितु के नाम से रजिस्टर्ड है। पुलिस पते पर पहुंची तो वहां खाली प्लॉट मिला। इलाके में पूछताछ की तो पता चला वह कुछ दिन पहले यहां से घर खाली करके चली गई। पुलिस ने उसे सिम बेचने वाले को पकड़कर पूछताछ की तो पता चला रितु सुंदरनगर में रहने लगी है। इस पर पुलिस ने उसके घर दबिश देकर पकड़ लिया।

इकबाल से की थी लवमैरिज, फिर शुरू किया ठगी का धंधा
पूछताछ में रितु ने बताया कि वह बीकॉम की छात्रा है। इकबाल नामक युवक से शादी करने के बाद वह माता-पिता से अलग रहने लगी थी। पति नयापुरा स्थित लोहे के कारखाने में काम करता है। आय कम होने से दोनों ने युवक-युवतियों को ठगना शुरू किया था। विज्ञापन देने के बाद कई लोग संपर्क करते थे। चार माह पहले पति से विवाद के बाद वह अकेले ही ठगी करने लगी थी। चार-चार महीने में मोबाइल नंबर और घर बदल लेती थी। इस कारण कभी पकड़ी नहीं गई। पुलिस इकबाल की तलाश कर रही है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts