EXAM के दिनों में यह होना चाहिए STUDENT का DIET CHART | HEALTH NEWS

20 February 2018

अध्ययन बताते हैं कि आप जो खाते हैं, वह आपकी मनोदशा को प्रभावित करता है। तनाव के स्तर बदलने से चिड़चिड़ापन और अशांति बढ़ सकती है। हालांकि, अध्ययन से यह भी पता चलता है कि EXAM का TENSION छात्रों को हाई फैट और हाई शुगर वाले स्नैक्स अधिक पसंद आते हैं। तनाव बढ़ने से शरीर को विटामिन सी, बी 5, बी 6, जिंक, मैग्नीशियम, पोटेशियम जैसे कुछ आवश्यक पोषक तत्वों की आवश्यकता अधिक होती है। ये तनाव से लड़ने वाले हार्मोन के निर्माण के लिए आवश्यक पोषक तत्व हैं।

नाश्ता कभी नहीं छोड़ें:
शोध से पता चलता है कि जो बच्चे नाश्ते खाते हैं, वे परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करते हैं। दूध, दही या अंडे सहित आपके पास सुबह के नाश्ते के लिए कई स्वस्थ विकल्प हैं, ताकि आप लंबे समय तक भूख को महसूस न करें।

सोने से पहले भी हैवी मील लेने से बचें
क्योंकि इससे नींद पूरी नहीं होती है। इससे ब्रेन फंक्शन्स नकारात्मक रूप से प्रभावित होते हैं। इसलिए सोने जाने से कम से कम तीन घंटे पहले अपना भोजन जरूर कर लें, खासतौर पर परीक्षा के दिनों में। 

लंच में ताजे फल और सब्जियां
खाने में पर्याप्त ताजे फल और सब्जियों को शामिल करके एक संतुलित आहार लेने की कोशिश करें। अंडे, गाजर, ब्रोकोली, नट्स, हरी पत्तेदार सब्जियां और फलों में एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ए, ई और सी प्रचुर मात्रा में होते हैं। ये मस्तिष्क की कोशिका क्षति को कम करते हैं। एक संतुलित आहार खाने से आपको बीमारी से बचने में मदद मिल सकती है

ओट, ब्राउन राइस, और होल वीट जैसे साबुत अनाज खाएं। दालें, सूखे मेवे और बीज, कम वसा वाले डेयरी प्रोडक्ट खाएं ताकि विटामिन बी और जिंक पर्याप्त मात्रा में शरीर को मिल सके।

यदि नॉनवेज खाते हैं, तो सी फूड जैसे सालमन, सार्डिन और मैकेरल का सेवन करें। ये सबसे ज्यादा स्वास्थ्यप्रद मछलियों में से हैं और इसमें काफी मात्रा में प्रोटीन और ओमेगा 3 होता है। यह मस्तिष्क के लिए अच्छा होने के साथ ही त्वचा और हृदय के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

सफेद आटा, सफेद चावल, मीठे पेय और चीनी का सेवन या सीमित करें। जंक फूड और खराब गुणवत्ता वाले फैट से बचना चाहिए। ज्यादा मात्रा में जंक फूड खाने से वजन कम हो सकता है। अध्ययन बताते हैं कि लगातार फास्ट फूड का सेवन करने से यह आपके मस्तिष्क में कुछ पोषक तत्वों की कमी कर सकता है, जिससे मस्तिष्क ठीक से काम नहीं कर पाता है।

अपने ध्यान को लगाए रखने के लिए शरीर को हाइड्रेटेड रखना बहुत जरूरी होता है। इसलिए ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें। शरीर में पानी की कमी होने पर थकान, सिरदर्द और एकाग्रता में कमी आ सकती है।

कम मात्रा में चाय, कॉफी और कैफीनयुक्त पेय ले सकते हैं। इन्हें अधिक मात्रा में पीने से आप ठीक से ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ हो सकते हैं। इसके बजाय ग्रीन टी ले सकते हैं, जिसमें कैफीन काफी अधिक मात्रा में होता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो एकाग्रता बढ़ाते हैं।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts