सरकार की स्मार्ट फोन योजना पर छात्र भड़के, प्रोफेसर्स को कमरे में बंद किया | BHOPAL NEWS

Tuesday, February 27, 2018

भोपाल। शिवराज सिंह चोहान सरकार की स्मार्ट फोन योजना के तहत शासकीय मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय (एमवी) में स्मार्ट फोन वितरण के दौरान छात्रों ने जमकर हंगामा किया। छात्रों ने शिक्षकों को कमरे में बंद कर दिया और जमकर हंगामा किया। छात्रों का आरोप है कि 700 रुपए वाला घटिया स्मार्टफोन दिया जा रहा है और उसकी कीमत 2500 रुपए बताई जा रही है। दोपहर 12 बजे शुरू हुआ छात्रों का हंगामा दोपहर 4 बजे तक चलता रहा। 

छात्र कॉलेज के मेन गेट पर ही बैठकर शासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। मौके पर पहुंचे पुलिस बल ने हंगामा शांत कराया। छात्रों ने उच्च शिक्षा विभाग में आरटीआई लगाकर स्मार्ट फोन खरीदी से जुड़े दस्तावेज मांगने की बात कही है। उनका कहना है कि इस मामले में कहीं न कहीं गड़बड़ी हुई है। कॉलेज के मेन गेट पर नारेबाजी कर रहे छात्रों को पुलिस ने शांत कराया। 

600 छात्रों को बांटे जाने थे स्मार्ट फोन 
सोमवार को एमवीएम में स्मार्ट फोन वितरण कार्यक्रम था। इस दौरान करीब 600 छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन बांटे जाने थे। छात्रों को जैसे ही पता चला कि उन्हें फोर स्टार नामक कंपनी के मोबाइल दिए जा रहे हैं उन्होंने इसका विरोध शुरू कर दिया। उनका कहना है कि पिछले साल सरकार ने सीनियर्स को लावा कंपनी के मोबाइल दिए थे, जो इस बार दिए जा रहे मोबाइल से कहीं बेहतर थे। छात्रों को इस बात पर भी नाराजगी थी कि जाे मोबाइल बांटे जा रहे थे उनकी कीमत बाजार में करीब 700 रुपए है जबकि सरकार इन्हें 2500 रुपए का बताकर बांट रही है। 

राज्य सरकार की योजना के तहत कॉलेज में प्रथम वर्ष में एडमिशन लेने की तारीख से स्मार्ट फोन का वितरण किए जाने तक क्लास में 75 प्रतिशत उपस्थिति वाले छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन प्रदान किया जाना है। इसका उद्देश्य छात्रों को सरकार डिजिटल मुहिम से जोड़ना है। 

छात्रों ने कहा- 4जी मोबाइल चाहिए, शिक्षक बोले- 3जी ही मिलेंगे 
छात्रों ने जब शिक्षकों से कहा कि उन्हें 4जी मोबाइल चाहिए तो उन्होंने यह कहकर इंकार कर दिया कि भेदभाव नहीं कर सकते। पिछले साल छात्रों को 3जी मोबाइल दिए गए थे इसीलिए इस बार भी 3जी ही दिए जाएंगे। इस पर छात्रों ने कहा कि पिछले साल सीनियर्स को लावा कंपनी के मोबाइल दिए गए थे, जो इस बार दिए जा रहे मोबाइल से कहीं बेहतर थे। इस मामले में क्यों भेदभाव किया जा रहा है। 

ज्यादा समय चार्जिंग पर मोबाइल फटने का डर 
छात्र अभिलाष ठाकुर और छात्रा आशमां खान का कहना है कि जो मोबाइल दिए जा रहे हैं उन्हें कहीं से भी स्मार्ट फोन नहीं कहा जा सकता। मोबाइल मात्र 500 रेम का है आैर कुछ भी डाउनलोड करने पर हैंग हो रहा है। ज्यादा देर तक चार्जिंग में लगाने पर फटने का डर बना रहता है। इन बातों को देखते हुए फोन लेना संभव नहीं है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week