यूपी में 162000 भर्तियां | UP POLICE JOBS

29 January 2018

लखनऊ। उत्तरप्रदेश पुलिस विभाग में जल्द ही 162000 भर्तियां होने वाली हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसका ऐलान कर दिया है। उन्होंने दावा किया है कि ये RECRUITMENT बिना किसी पक्षपात के होंगी और यदि कोई भ्रष्टाचार करने की कोशिश करेगा तो उसे जेल भेज दिया जाएगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकारों को निर्देशित किया है कि वो राज्यों में रिक्त पड़े पुलिस विभाग के पदों पर जल्द ही भर्तियां पूरी करें। 

सोमवार को गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि गृह जिले को उन्होंने करोड़ों योजनाओं की सौगात दी है. मुख्यमंत्री गोरखपुर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में चल रही योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने यहां पहुंचे हैं. इस मौके पर उन्होंने कहा कि 'हम पुलिस विभाग में 1,62,000 रिक्तियों के साथ आ रहे हैं. हम पक्षपातपूर्ण किये बिना अपनी योग्यता में उत्तर प्रदेश के युवाओं को रोजगार प्रदान करेंगे. जो भी इस प्रक्रिया में भ्रष्टाचार में शामिल होने की कोशिश करेगा, उसे जेल भेज दिया जायेगा.' 

We are coming up with 1,62,000 vacancies in police department. We will provide employment to #UttarPradesh youth in it on their merit without being biased. Anyone who tries to indulge in corruption in the process will be sent to jail: CM Yogi Adityanath in Gorakhpur
@ANINewsUP 3:00 PM - Jan 29, 2018

साथ ही उन्होंने कहा कि भारत के विकास में उत्तर प्रदेश की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है. हमने पूर्वी उत्तर प्रदेश में अब तक 564 करोड़ की लागत से राजमार्ग बनवाने का काम शुरू किया है. साथ ही 3014 करोड़ राजमार्गों के सुंदरीकरण पर खर्च किये जा रहे हैं. सूबे के हर जिला मुख्यालय में 24 घंटे बिजली दी जा रही है. मुख्यमंत्री ने महेसरा सेतु के लोकार्पण पर बधाई देते हुए कहा कि 2006 से यहां की जनता इस सेतु के क्षतिग्रस्त होने से परेशान थी. 2009 में सेतु निर्माण का कार्य स्वीकृत हुआ, लेकिन काम नहीं हो पाया. 


उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आने से पहले जनता की समस्या को लेकर गोरखपुर में आंदोलन करना पड़ता था. लेकिन, भाजपा सरकार के आते ही माफिया और अपराधी के लिए प्रदेश में जगह नहीं है. पिछली सरकार ने भी माफिया और अपराधियों पर नकेल कसने का काम किया होता, तो प्रदेश बदहाल नहीं होता. साथ ही उन्होंने कहा कि इसी साल जुलाई माह में एम्स में ओपीडी शुरू करने की योजना है.साथ ही हमारा प्रयास है कि शुद्ध पेयजल हर आदमी तक पहुंचे. उन्होंने कहा कि हर जिले के बच्चों को गृह जिले में ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए धन आवंटित करना शुरू कर दिया है. साथ ही हर जिले में आईसीयू की सुविधा भी जल्द ही दी जायेगी. 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week