छेड़छाड़ कर रहे सिपाही को पीटा तो पीड़िता के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा की FIR | MP NEWS

03 December 2017

भोपाल। सबसे ज्यादा बलात्कार के मामले में शर्मनाक रिकॉर्ड बना चुके मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक और अजीब मामले पेश आया है। नशे में धुत पुलिस आरक्षक ने महिला के साथ छेड़छाड़ की थी। महिला और उसके पति ने आरक्षक की पिटाई लगा दी। बदले में पुलिस ने दंपत्ति के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा का मामला दर्ज कर लिया। गजब की बात तो यह है कि महिला की शिकायत पर सिपाही के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज नहीं किया गया है। 

मामला दिनांक 2 दिसम्बर 2017 गोविंदपुरा थाना इलाके का है। अवधपुरी में रहने वाली 35 वर्षीय अपर्णा शर्मा एवं उनके पति धनंजय शर्मा गोविंदपुरा थाने के सामने कार खड़ी कर बेटे के साथ सामने सड़क के दूसरे तरफ दशहरा मैदान में लगा मेला देखने गई थी। गाड़ी खड़ी करने को लेकर नशे में धुत कांस्टेबल नरेश बघेल की अपर्णा शर्मा से कहासुनी हो गई। महिला का आरोप है कि कांस्टेबल नरेश ने नशे में उसका हाथ पकड़ लिया और उससे छेड़छाड़ भी की। महिला और उसके पति ने कांस्टेबल की धुनाई की।

डीआईजी संतोष सिंह ने कहा कि घटना के वायरल वीडियो के आधार पर कांस्टेबल से मारपीट करने वाली दंपति पर एफआईआर दर्ज की गई। डीआईजी ने नशे में धूत कांस्टेबल पर लाइन अटैच की कार्रवाई करने की बात भी कही है लेकिन पीड़ित महिला की शिकायत पर कांस्टेबल के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। आॅन ड्यूटी नशे में होने के बावजूद विभागीय कार्रवाई नहीं की गई है। बता दें ​कि 'लाइन अटैच' पुलिस विभाग में एक व्यवस्था होती है। यह सजा नहीं होती। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week