आॅफिस से लौटी युवती फांसी पर झूल गई | BHOPAL NEWS

Saturday, December 23, 2017

भोपाल। जहांगीराबाद इलाके में बीकॉम की एक छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वो एमपी नगर में एक सीए के यहां नौकरी करती थी। आॅफिस से लौटकर आई युवती गुमसुम थी। उसने पिता को बताया कि सिर दर्द हो रहा है। फिर अपने भाईयों को बाजार भेज दिया और फांसी पर झूल गई। पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आॅफिस में ऐसा क्या हुआ था जो तनाव का कारण बना। 

चर्च रोड जहांगीराबाद निवासी 20 वर्षीय दिव्या विश्वकर्मा पिता टीकाराम विश्वकर्मा बीकॉम फोर्थ सेमेस्टर की छात्रा थी। वह पढ़ाई के साथ एमपी नगर में एक सीए के यहां अकाउंट की ट्रेनिंग ले रही थीं। एसआई राकेश मिश्रा के अनुसार शुक्रवार शाम चार बजे ऑफिस से लौटकर दिव्या ने पिता से कहा कि सिर में दर्द हो रहा है और वह सोने चली गई। पिता काम से एमपी नगर चले गए। 

इस बीच दिव्या ने 14 और 12 साल के भाइयों को जलेबी लाने के बहाने घर से बाहर भेज दिया। 10 मिनट बाद घर पहुंचे भाइयों को दिव्या फांसी पर लटकी मिली। उन्होंने फंदा काटकर बहन को उतारा तो उसकी सांसें चल रही थी। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पिता ने पुलिस को बताया कि दिव्या को माइग्रेन की समस्या थी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week