बुरे वक्त में ऋतिक का सहारा बनी उनकी Ex WIFE सुजैन खान

Sunday, September 3, 2017

MUMBAI : अक्‍सर लोग तलाक के बाद र‍िश्‍ता समाप्त ही मानते हैं लेक‍िन बॉलीवुड में ऐसा नहीं है। यहां कुछ स‍ितारे अपने एक्‍स पार्टनर के साथ तलाक के बाद भी वक्‍त ब‍िताते देखे जाते हैं। इन द‍िनों बॉलीवुड स्‍टार रितिक रोशन एक्‍स वाइफ सुजैन खान के साथ द‍िखने की वजह से चर्चा में हैं। कंगना रनौत ने रजत शर्मा की आप की अदालत के इंटरव्यू के बाद, ऋतिक रोशन की कोई इज़्जत बची नहीं रहने दी है। और अब ऋतिक रोशन का सपोर्ट करने मैदान में उतर गई हैं उनकी एक्स वाइफ सुज़ैन रोशन। हालांकि दिलचस्प ये है कि अभी तक ऋतिक रोशन और राकेश रोशन ने कंगना के इल्ज़ामों का कोई जवाब नहीं दिया है। वहीं कंगना रनौत ने कहा कि मेरे पास अब खोने को कुछ नहीं है तो मैं केवल सच ही बोलूंगी। 

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने ऋतिक रोशन के बारे में कहा है कि वो जब शादीशुदा थे तभी उनका अफेयर चल रहा था। ऋतिक ने बताया भी था कि मैं अपनी पत्नी को परिवार की वजह से छोड़ नहीं सकता। पर हमारा कोई रिश्ता नहीं है। बाद में खुद सुज़ैन ने ऋतिक से तलाक मांग लिया था। अब ऋतिक रोशन तो शांत बैठे हैं लेकिन उनकी तरफ से सुज़ैन रोशन ने एक अजीब सा ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सुज़ैन ने एक ट्वीट में कहा कि लोग प्लॉट बनाते हैं, दया बटोरते हैं लेकिन एक ना एक दिन सच ही सामने आता है। अब सुज़ैन क्या कह रही थीं पता नहीं। लेकिन ये तय हो गया कि ऐसे बुरे वक्त में भी वो ऋतिक का साथ नहीं छोड़ेंगी।

वैसे सुज़ैन और ऋतिक के तलाक ने 10 बातें ज़रूर सिखा दी थीं - हर कहानी की नहीं होती हैप्पी एंडिंग ज़िंदगी में सब कुछ फिल्मी नहीं होता। And they live happily ever after जैसी चीज़ें बस फिल्मों में ही होती हैं। इसलिए ज़िंदगी में समझदारी और एडजस्टमेंट ज़रूरी है, फिल्म स्टार्स के लिए भी। सुपरस्टार भी शादी को मानते हैं आज कल का यूथ जो शादी को तरजीह न देकर लिव इन पर ज़्यादा विश्वास करता है उनके लिए ऋतिक ने एक संदेश दिया। तलाक फाइल करने के बाद ही ऋतिक ने मीडिया में स्टेटमेंट दिया कि शादी पर मेरा पूरा विश्वास है और कुछ बातों की वजह से मेरा इस संस्था पर से विश्वास उठ जाए यह गलत होगा। 

तलाक किसी चीज़ का हल नहीं ऋतिक सुज़ैन के तलाक के बाद इंडस्ट्री, मीडिया और सोसाइटी के बर्ताव से साबित हो गया कि हम किस भी सदी में पहुंच जाएं तलाक जैसी चीज़ों को आज भी समाज स्वीकार नहीं करता। हर सेलिब्रिटी का ब्रेक अप गॉसिप नहीं होता जी हां सेलिब्रटी की भी अपना निजी जीवन होता है और उनकी हर खबर गॉसिप नहीं होती। दो लोग आपसी समझ से भी अलग हो सकते हैं इसके लिए एक दूसरे पर कीचड़ उछालने की कोई ज़रूरत नहीं है। हम समाज वाले केवल मसाला चाहते हैं हमारे लिए फिल्मस्टार मतलब इंटरटेनमेंट का डोज़। ये तभी तय हो गया था जब हमने चटखारे के साथ यह खबर पढ़ी थी कि तलाक फाइल करने के बाद सुज़ैन पार्टियों में दिख रही हैं। एक ब्रेकअप का मतलब ज़िंदगी खत्म नहीं होता ऋतिक सुज़ैन जितनी समझदारी और बैलेंस के साथ ज़िंदगी बिता रहे हैं वो यह साफ करता है कि एक रिश्ता टूट जाने से देवदास बनने की ज़रूरत नहीं है। और भी काम हैं ज़िंदगी में। अकेला कोई नहीं छोड़ता आपने एक गलती की नहीं कि पूरी दुनिया हाथ धोकर आपके पीछे पड़ जाएगी। हम भी अभी वही कर रहे हैं पर दुनिया तो ऐसी ही है क्या हुआ, कब हुआ, कैसे हुआ, इसे सब जानना है। दो की गलती में तीसरा ज़रूरी नहीं होता ये मानना बिल्कुल गलत है कि दो की लड़ाई में तीसरा ज़रूर होगा। 

दोस्त और परिवार बहुत ज़रूरी होते हैं ज़िंदगी में परिवार और दोस्तों की ज़रूरत कितनी होती है यह बात ऋतिक - सुज़ैन के किस्से ने साबित किया। दोनों के परिवार और दोस्तों ने इस मुश्किल में उनका बखूबी साथ निभाया। हर लड़ाई में बच्चों को खींचना ज़रूरी नहीं ऋतिक - सुज़ैन की लड़ाई से उनके बच्चे हमेशा अलग रहे हैं। दोनों ने ही बच्चों को इससे दूर रखा। कई मौकों पर तलाक फाइल करने के बाद भी दोनों साथ दिखे। ये उनकी समझदारी और ज़िम्मेदारी दोनों को दिखाता है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah