घोटाले की जांच में घोटाला: दोषियों को सजा सुनाकर फाइल बंद कर दी, 1 साल से अटकी है कार्रवाई

Monday, September 11, 2017

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। जिले की बैहर जनपद के अंतर्गत 14 पंचायतों में नियमों को ताक में रखकर सोलर स्ट्रीट लाईट की खरीदी टेंडर की प्रक्रिया अपनाए बिना एक ही फर्म से कर ली गई। बैहर के अनुविभागीय अधिकारी ने एक शिकायत के आधार पर मामले की जांच की तो इस घपले का खुलासा हुआ। तत्कालीन कलेक्टर श्री भरत यादव ने एसडीएम बैहर को निर्देशित करते हुये संबंधित 14 पंचायतों से 48 लाख रूपये की वसूली करने के आदेश दिये थे लेकिन एक वर्ष गुजर जाने के बाद भी वसूली की कार्यवाही लम्बित है।

इस मामले में संबंधित पंचायतों के सरपंच ने जांच के दौरान यह जवाब दिया है कि मुख्य कार्यपालन अधिकारी के मौखिक आदेश से सोलर लाईट खरीदे है। जिन पंचायतों ने बिना प्रक्रिया के सोलर लाईटें खरीदी है उनमें बिरवा, पोंण्डी, लातरी, आमगहन, कंदई, परसाटोला, करेली, पाण्डुरतला, कोहका, जामी,लहंगाकन्हार, परसामहु, खोलवा,करवाही शामिल हैं। ये सभी पंचायते नक्सल प्रभावित क्षेत्र के अंतर्गत आती है।

जनपद पंचायत बैहर के मुख्यकार्यपालन अधिकारी पुष्पेन्द्र व्यास ने अवगत कराया की बैहर की 14 पंचायतों ने नियम विरूद्ध सोलर लाईट की खरीद की है। जिनसे वसूली की कार्यवाही की जानी है। अब यह मामला जिला पंचायत बालाघाट भेज दिया गया है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week