पंजाब में क्रांतिकारी सुखदेव जन्मे: आज का इतिहास ,15 मई | TODAY IN HISTORY

Monday, May 15, 2017

राजू जांगिड़/विशेष | ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार 15 मई वर्ष का 135 वाँ (लीप वर्ष में यह 136 वाँ) दिन है। इस हिसाब से साल में अभी और 230 दिन शेष हैं। आज विश्व भर में विश्व परिवार दिवस मनाया जा रहा है। आज के दिन कई महत्वपूर्ण घटनाएँ घटी थी जिसमें 1995 में एलीसन गारग्रीब्स बिना आक्सीजन सिलीडंर के एवरेस्ट की चोटी पर पहुँचने वाली पहली महिला बनीं थी। आज के ही दिन महान क्रांतिकारी सुखदेव एवं धकधक गर्ल माधुरी दीक्षित का जन्म हुआ था। 

भगत सिंह के साथ पेदा हुए, उन्हीं के साथ शहीद हो गए 
(जन्म: 15 मई 1907 मृत्यु: 23 मार्च 1931) का पूरा नाम सुखदेव थापर था। वे भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख क्रान्तिकारी थे। उन्हें भगत सिंह और राजगुरु के साथ 23 मार्च 1931 को फाँसी पर लटका दिया गया था। इनकी शहादत को आज भी सम्पूर्ण भारत में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। सुखदेव भगत सिंह की तरह बचपन से ही आज़ादी का सपना पाले हुए थे। ये दोनों 'लाहौर नेशनल कॉलेज' के छात्र थे। दोनों एक ही सन में लायलपुर में पैदा हुए और एक ही साथ शहीद हो गए।

व्यक्तिगत जीवन
सुखदेव थापर का जन्म पंजाब के शहर लायलपुर में श्रीयुत् रामलाल थापर व श्रीमती रल्ली देवी के घर विक्रमी सम्वत 1964 के फाल्गुन मास में शुक्ल पक्ष सप्तमी तदनुसार 15 मई 1907 को अपरान्ह पौने ग्यारह बजे हुआ था। जन्म से तीन माह पूर्व ही पिता का स्वर्गवास हो जाने के कारण इनके ताऊ अचिन्तराम ने इनका पालन पोषण करने में इनकी माता को पूर्ण सहयोग किया। सुखदेव की तायी जी ने भी इन्हें अपने पुत्र की तरह पाला।

लाला लाजपत राय की मौत का बदला लेने के लिये जब योजना बनी तो साण्डर्स का वध करने में इन्होंने भगत सिंह तथा राजगुरु का पूरा साथ दिया था। यही नहीं, सन् 1929 में जेल में कैदियों के साथ अमानवीय व्यवहार किये जाने के विरोध में राजनीतिक बन्दियों द्वारा की गयी व्यापक हड़ताल में बढ़-चढ़कर भाग भी लिया था। गान्धी-इर्विन समझौते के सन्दर्भ में इन्होंने एक खुला खत गान्धी के नाम अंग्रेजी में लिखा था जिसमें इन्होंने महात्मा जी से कुछ गम्भीर प्रश्न किये थे। उनका उत्तर यह मिला कि निर्धारित तिथि और समय से पूर्व जेल मैनुअल के नियमों को दरकिनार रखते हुए 23 मार्च 1931 को सायंकाल 7 बजे सुखदेव, राजगुरु और भगत सिंह तीनों को लाहौर सेण्ट्रल जेल में फाँसी पर लटका कर मार डाला गया गया। इस प्रकार भगत सिंह तथा राजगुरु के साथ सुखदेव भी मात्र 23 वर्ष की आयु में शहीद हो गये।

आज के दिन की अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं 
1999 में कुवैती सरकार द्वारा महिलाओं को संसदीय चुनावों में मताधिकार का हक प्रदान किया था।
2001 में इटली में दक्षिणपंथी गठबंधन को बहुमत।
2002 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इराक पर प्रतिबंधों का अनुमोदन किया।
2003 में इराक युद्ध में अमेरिकी सेनाओं के कमांडर टामी फ़्रैक्स के ख़िलाफ़ ब्रुसेल्स की अदालत में युद्ध सम्बन्धी मुकदमा दायर किया।
2005 में अंततः 20 साल के बाद कनाडा में भारत का विमान उतरा।
2008 - श्रीलंका सरकार ने आतंकवादी संगठन लिट्टे पर प्रतिबन्ध दो साल के लिए बढ़ाया और भारतीय मूल की मंजूला सूद ब्रिटेन में मेयर बनने वाली पहली एशियाई महिला बनीं।

15 मई को जन्म लेने वाले लोग
1817 - देवेन्द्रनाथ ठाकुर, प्रख्यात विद्वान और धार्मिक नेता।
1907 - क्रान्तिकारी सुखदेव - महान क्रांतिकारी शहीद।
1923 में जॉनी वॉकर जो एक भारतीय हास्य अभिनेता थे।
आज ही के दिन 1965 में भारतीय बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित का जन्म हुआ।
1926 में महेन्द्रनाथ मुल्ला का जन्म हुआ जो भारतीय नौसेना के जांबाज अफसरों में एक।

आज जिनका निधन हुआ
1958 - यदुनाथ सरकार - प्रसिद्ध इतिहासकार।
1993 - के.एम. करिअप्पा - भारत के 'प्रथम आर्मी कमाण्डर इन चीफ़'।
2010 में भैरोंसिंह शेखावत का निधन हुआ जो राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री व भारत के उपराष्ट्रपति थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं


Popular News This Week