एनडीटीवी इंडिया पर पाबंदी देश की सुरक्षा के लिए: वेंकैया नायडू

Saturday, November 5, 2016

नईदिल्ली। देश भर में उठ रहे विरोध के बाद घिर गई मोदी सरकार के केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मत्री वेंकैया नायडू ने समाचार चैनल एनडीटीवी इंडिया को एक दिन के लिए ऑफ एअर किए जाने को सही ठहराया है। बता दें कि प्रेस क्लब ऑफ इंडिया, एडिटर्स गिल्ड सहित तमाम मीडिया संस्थान ने सरकार के इस फैसले की कड़ी निंदा की है और फैसले को वापस लेने की मांग की है।

केंद्रीय मंत्री ने एक दिन के बैन के फैसले को पूरी तरह से न्यायसंगत बताया है। वैंकेया नायडू ने कहा कि यह कदम राष्ट्र की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री नायडू ने शनिवार की सुबह दिए बयान में कहा, "एक टीवी चैनल को एक दिन के लिए बंद करने की कार्यवाही का कदम देश की सुरक्षा को ध्यान में रखकर उठाया गया है।

गौरतलब है कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आने वाले बुधवार को समाचार चैनल एनडीटीवी इंडिया के प्रसारण पर एक दिन के लिए रोक लगाने का आदेश दिया है। मंत्रालय ने चैनल पर यह प्रतिबंध पठानकोट हमले के दौरान कवरेज पर आपत्ति जताते हुए लगाया है।

वहीं समाचार चैनल ने सरकार ने दावों को खारिज करते हुए कहा कि पठानकोट हमले पर उनकी कवरेज पूरी तरह से संतुलित थी। चैनल का कहना है कि आतंकी हमले के प्रसारण के दौरान किसी भी तह की संवेदनशील सूचना सार्वजनिक नहीं की गई थी।

एनडीटीवी ने अपने बयान में कहा है, "यह बेहद आश्चर्य की बात है कि एनडीटीवी को इस तरह एक मामले में अलग किया गया। तब जबकि सभी समाचार चैनलों और अखबारों की कवरेज एक जैसी ही थी। वास्‍तविकता में एनडीटीवी की कवरेज विशेष रूप से संतुलित थी।

चैनल ने सफाई में कहा, "आपातकाल के काले दिनों के बाद जब प्रेस को बेड़ियों में जकड़ लिया गया था, उसके बाद से एनडीटीवी पर इस तरह की कार्रवाई अपने आप में असाधारण घटना है। इसके मद्देनजर एनडीटीवी इस मामले में सभी विकल्‍पों पर विचार कर रहा है। इसके साथ प्रेस क्लब ऑफ इंडिया, एडिटर्स गिल्ड सहित तमाम मीडिया संस्थान ने सरकार के इस फैसले की कड़ी निंदा की है और फैसले को वापस लेने की मांग की है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week