Loading...

रखवाला साँप: जान देकर बचाई 400 साल पुरानी ठाकुरजी की प्रतिमा

नईदिल्ली। यूपी में मऊ के हलधरपुर थाना क्षेत्र के रतनपुरा बाजार के निकट डीह तिलक ठाकुर गांव के समीप ठाकुरजी के मंदिर में मंगलवार की रात पुजारी को बंधक बना कर गर्भगृह में घुसे आठ बदमाशों में से एक को सांप ने डस लिया। बदमाशों ने सांप को गर्भगृह में ही मार डाला पर उन्हे मंदिर से बिना चोरी किए ही भागना पड़ा। 

हलधरपुर क्षेत्र के रतनपुरा बाजार के निकट डीह तिलक ठाकुर मौजे में ठाकुर जी का मंदिर है। 400 वर्ष पुराने इस मंदिर में राम, जानकी, लक्ष्मण की मूर्तियां हैं। मंगलवार की रात पुजारी अरुणेश कुमार तिवारी गर्भगृह का ताला बंदकर मंदिर के बरामदे में चौकी पर सोए थे। पुजारी के अनुसार रात में लगभग 12 बजे करीब 8 की संख्या में बदमाश आए और उन्हें तमंचे से आतंकित कर एक कमरे में बंद कर दिया।

इसके बाद बदमाशों ने गर्भगृह का ताला तोड़ दिया और उसके अंदर घुस गए। ज्योंहि बदमाश गर्भगृह में पहुंचे वहां मौजूद सांप ने एक बदमाश को काट लिया। इससे भयभीत बदमाशों ने सांप को वहीं मार डाला। इस बीच सर्पदंश के साथी की हालत गंभीर होते देख बदमाश बिना मूर्ति आदि लिए ही फरार हो गए। बदमाशों के जाने के बाद पुजारी ने शोर मचाया और कमरे में रखा लोहे के रम्मे की मदद से दरवाजा खोलकर बाहर आए।

घटना की जानकारी होते ही रात में ही मंदिर पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। लोगों ने इसकी जानकारी 100 नंबर पर पुलिस को दी। सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक शिवहरि मीना, अपर पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह आदि मौके पर पहुंच गए और जांच पड़ताल की। क्षेत्र में चर्चा है कि मूर्ति चुराने आए बदमाशों को ईश्वर की कृपा से मुंह की खानी पड़ी।