कांग्रेस मुख्यालय में बरसीं लाठियां, नेताओं ने एक दूसरे को गलियाया

04 March 2015

पटना। मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में नजारा अलग-अलग दिखा. इंदिरा गांधी की मूर्ति के सामने कांग्रेसियों ने एक दूसरे पर डंडा भाजे, गाली-गलौज की. एक ओर जहां सदाकत आश्रम के अंदर होली मिलन समारोह में लोग एक दूसरे को अबीर- गुलाल लगा रहे थे, दूसरी ओर बेगूसराय जिला कांग्रेस अध्यक्ष अभय सिंह टाजर्न को हटाये जाने के विरोध में बाहर समर्थक जिंदाबाद-मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे.

अभय समर्थकों ने सदाकत आश्रम के मैदान में धरना पर बैठ कर डॉ अशोक चौधरी के खिलाफ जम कर नारेबाजी की. नारेबाजी के दौरान प्रदेश नेतृत्व के समर्थकों व विरोधियों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई. धरने में शामिल लोगों की पिटाई  की गयी. बीच-बचाव के बाद में किसी तरह की अनहोनी की आशंका को लेकर बड़ी संख्या में पुलिस बल बुलाया गया. सदाकत आश्रम पुलिस छावनी में तब्दील था.

विरोधियों ने आरोप लगाया कि बेगूसराय जिला कांग्रेस का अध्यक्ष उसे बनाया गया है, जिसने दूसरे दल के लिए हमेशा काम किया है. विरोधियों ने एकजुट होकर प्रदेश नेतृत्व डॉ अशोक चौधरी व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव व बिहार प्रभारी सीपी जोशी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हटाने की मांग की. इसे लेकर विरोधी गुट होली के बाद दिल्ली जाकर पार्टी हाइकमान से मिल कर अपनी  बात रखेगा. नयी कमेटी गठन के बाद पदाधिकारियों की फरमाइश पर कांग्रेस मुख्यालय में पहली बार होली मिलन समारोह का आयोजन हुआ. प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष डा. अशोक चौधरी ने नेताओं व कार्यकर्ताओं को अबीर लगा कर होली की शुभकामना दी.

 समारोह में भोजपुरी कलाकार अमित पराशर, महुआ चैनल के पाश्र्व गायक अमर आनंद व कुमारी माही ने होली गीत गाकर दर्शकों का मनोरंजन किया. इस मौके पर विधान पार्षद डा. मदन मोहन झा व रामचंद्र भारती, डा. हरखु झा, विजय शंकर मिश्र, एच.के.वर्मा, सुमन कुमार मल्लिक, विनोद सिंह यादव, शकीलुररहमान, जया मिश्र, प्रो. अंबुज किशोर झा, राजेश राठौड़, डा. विनोद शर्मा, नवेन्दु झा, शरीफ अहमद रंगरेज, रंजीत झा, राज कुमार राजन आदि शामिल हुए.  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रो उमाकांत सिंह, इरशाद हुसैन ने कहा कि कांग्रेस मुख्यालय में कभी इस तरह का संस्कृति देखने को नहीं मिला. लोकतंत्र में सबको अपनी बात रखने का अधिकार है.

चौधरी समर्थकों ने की मारपीट
बेगूसराय जिला के पूर्व अध्यक्ष अभय सिंह टाजर्न ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस की नयी कमेटी में ऐसे लोगों को शामिल किया गया है जिसका पार्टी के साथ कोई लेना-देना नहीं रहा है. कई जिले में पैसे लेकर अध्यक्ष बनाने का काम हुआ है. उन्होंने बताया कि पार्टी को मजबूत करने के बदले उसे खत्म करने में प्रदेश नेतृत्व लगे हैं. हमलोग शांतिपूर्वक धरना देने के लिए बैठे तो प्रदेश अध्यक्ष के समर्थकों ने मारपीट की. धरना को मिथिलेश झा, मो. शबीर, लखन पासवान, रामविलास सिंह, सिद्धार्थ क्षत्रिय, अजय कुमार, वसी अख्तर, सुनील कुमार सहित कई नेताओं ने संबोधित किया.

मारपीट का आरोप निराधार
प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष डा. अशोक चौधरी ने मारपीट का आरोप को निराधार बताया. उन्होंने कहा कि पार्टी में बड़ा हेर-फेर होने पर नाराजगी व खुशी जाहिर सी बात है. पांच साल से बने जिला कांग्रेस अध्यक्ष को हटाने का काम हुआ है. अभय सिंह टारजन को कमिश्नरी स्तर पर बनाये गये कमेटी में सदस्य बनाया गया है. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें अपनी कोई बात रखना है तो इसके लिए उचित फोरम पर अपनी बात रखते. उनकी बात सुनी जाती. पार्टी की मजबूती के लिए बड़ा परिवर्तन किया गया है.




-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->