Loading...

इस बार का लोकसभा चुनाव RSS लड़ेगा

भोपाल। आरएसएस और भाजपा में बाप-बेटी का रिश्ता है ये तो सभी जानते हैं, लोग ये भी जानते हैं कि बीजेपी के पीछे हमेशा आरएसएस ही होता है परंतु इस बार आरएसएस पीछे नहीं होगा, बल्कि फ्रंड लाइन में होगा। बीजेपी सहयोगी संगठन के रूप में साथ रहेगी।

लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा की विजय सुनिश्चित करने और नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पहली बार खुलकर सामने आया है। संघ प्रमुख मोहन भागवत गुरवार को पदाधिकारी और प्रचारकों की मौजूदगी में चुनावी रणनीति पर मंथन करेंगे। मप्र-छग की 40 सीटों पर संघ कार्यकर्ताओं की जमावट के साथ जीत की गारंटी वाले प्रत्याशियों को लेकर भी विचार-विमर्श किया जाएगा।

देश के चुनावी इतिहास में यह पहला मौका है जब आरएसएस ने खुलकर भाजपा की चुनावी तैयारियों और व्यवस्थाओं में दखल देकर अपनी राय भी प्रकट की है।

चुनावी गतिविधियों के बीच बुधवार देर रात भोपाल पहुंचे संघ प्रमुख भागवत की पांच दिनी भोपाल यात्रा का मुख्य एजेंडा भी यही माना जा रहा है। गुरवार सुबह 8 बजे एलएनसीटी इंजीनियरिंग कॉलेज परिसर में संघ एवं भाजपा नेताओं की समन्वय बैठक बुलाई गई है। बैठक दिन भर चलेगी। इस खास बैठक में मप्र-छग के चारों प्रांत मालवा, मध्यभारत, महाकौशल और छत्तीसग़़ढ के प्रांत एवं सह प्रचारक, क्षेत्र प्रचारक, सह क्षेत्र प्रचारक, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर, संगठन महामंत्री अरविंद मेनन और पार्टी के चुनिंदा पदाधिकारियों को बैठक का बुलावा भेजा गया है। संघ प्रमुख भागवत से मुलाकात के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी अलग से समय तय किया गया है।

आएंगे संघ-भाजपा के दिग्गज
भागवत के साथ इस महत्वपूर्ण बैठक में सर कार्यवाह भैयाजी जोशी, सह सर कार्यवाह सुरेश सोनी, सह संपर्क प्रमुख राम माधव के अलावा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, राजस्थान के प्रभारी कप्तान सिंह, सांसद अनिल दवे एवं राकेश सिंह सहित अनेक प्रचारक भी मौजूद रहेंगे। समन्वय बैठक में चुनाव के मद्देनजर संगठन द्वारा कराए गए चुनावी सर्वेक्षण और संघ के अपने फीडबैक पर चर्चा की जाएगी। चारों प्रांतों में सक्रिय संघ के विभिन्न आनुषांगिक संगठनों के प्रमुख पदाधिकारियों को भी बैठक में बुलाया गया है।

संचलन के साथ शक्ति संवाद

शुरुआती तीन दिन 20 से 22 फरवरी तक संघ प्रमुख के साथ विभिन्न मुद्दों पर लगातार बैठकों के आयोजन रहेंगे। 23 फरवरी को संघ कार्यकर्ताओं का गुणवत्ता पथ संचलन का विशेष आयोजन किया गया है। यह संचलन छह नंबर शिवाजीनगर से लिंक रोड नंबर एक से होते हुए टीटी नगर स्थित दशहरा मैदान पहुंचेगा। सर संघ चालक भागवत इस पथ संचलन का शिवाजी स्टेचू चौराहे से निरीक्षण करेंगे। इसके बाद वह दशहरा मैदान में संघ कार्यकर्ताओं को बौद्धिक देंगे। उसी दिन देर शाम को समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत महिलाओं के साथ भागवत की बैठक रखी गई है। इस कार्यक्रम को संघ ने शक्ति संवाद का नाम दिया है जिसमें चुनिंदा महिला समाजसेवियों को ही निमंत्रित किया गया है।

चुनाव सहित अनेक मुद्दों पर चर्चा

अरविंद मेनन, भाजपा संगठन महामंत्री मप्र ने कहा कि भोपाल में सर संघ चालक मोहन भागवत की मौजूदगी में हो रही समन्वय सहित अन्य सभी बैठकों में मप्र-छग से चारों प्रांत के 300 से अधिक प्रमुख पदाधिकारी शरीक होंगे। इस दौरान चुनाव सहित विभिन्न राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक मुद्दों पर विचार विमर्श किया जाएगा।