IAS ने नोटिस लगाया, कोई रिश्वत मांगे तो मुझे बताओ | MP NEWS

Wednesday, January 10, 2018

भोपाल। श्योपुर जिले में अपनी पदस्थापना के दौरान विवादित बयान के लिए सुर्खियों में आए  IAS LOKESH KUMAR JANGID एक बार फिर चर्चाओं में हैं, लेकिन इस बार 'घंटा फर्क नहीं पड़ता' के लिए नहीं, बल्कि अपने आॅफिस को भ्रष्टाचार मुक्त घोषित करने के लिए। प्रशिक्षु आईएएस लोकेश इन दिनों शहडोल में एसडीएम है। उन्होंने अपने आॅफिस में एक सूचना टांग दी है। लिखा है यदि कोई कर्मचारी रिश्वत मांगे तो मुझे बताएं, और यदि मैं रिश्वत मांगू तो कलेक्टर को बताएं। 

शहडोल मुख्यालय के एसडीएम और प्रशिक्षु आईएएस लोकेश जांगीड़ ने सरकारी दफ्तरों में फैले भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए एक अनोखी पहल की है। सोहागपुर एसडीएम लोकेश ने सोशल मीडिया में एक मैसेज प्रसारित किया है, जो खूब वायरल हो रहा है। एसडीएम ने अपने मैसेज में आम जनता से अपील की है कि यदि राजस्व से जुड़े किसी भी मामले में यदि कोई भी राजस्व कर्मचारी रिश्वत की मांग करता है तो इसकी सूचना वो तत्काल उन्हें दें। 

इसके लिए एसडीएम ने अपना मोबाइल नम्बर भी सोशल मीडिया में सार्वजनिक किया है। ट्रेनी आईएएस अधिकारी की इस पहल की काफी सराहना हो रही है। उम्मीद जताई जा रही है कि इससे भ्रष्टाचार पर कुछ हद तो लगाम कसी जा सकेगी। 

बता दें कि अपनी श्योपुर जिले में पदस्थापना के दौरान लोकेश काफी विवादित हो गए थे। दरअसल, वहां कुछ लोग उन्हे तंग कर रहे थे तो उन्होंने एक वाट्सएप ग्रुप पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिख दिया: 'कुछ छापने से मुझे घंटा कुछ फर्क नहीं पड़ता, जिसको जो उखाड़ना है उखाड़ ले।' इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया और कुछ अन्य कांग्रेसियों के खिलाफ भी राजनैतिक बयानबाजी कर दी थी। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week