नागरिक आपूर्ति निगम के लिए संकट बना ASHOKNAGAR से रिजेक्ट हुआ गरीबों का चावल

Wednesday, May 10, 2017

सुधीर ताम्रकार/बालाघाट। बालाघाट जिले से अशोकनगर भिजवाई गई चावल की रेंक में पाये गये अमानक स्तर की क्वालिटी नागरिक आपूर्ति निगम के लिये गले की फांस बनकर रह गई है। अमानक क्वालिटी के संबंध में कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने से कतरा रहा है। यह उल्लेखनीय है कि उक्त अमानक चावल के सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से वितरण कराये जाने के लिये अशोकनगर का जिला प्रशासन पहले ही मना कर चुका है।

नागरिक आपूर्ति निगम ग्वालियर के क्षेत्रिय प्रबंधक के अनुसार चावल की क्वालिटी पूरी तरह खराब है जांच दल ने इस अमानक चावल के 13 सेंपल लिये है तथा अधिकारिक सूत्रों के अनुसार 30 प्रतिशत से अधिक चावल खराब पाया गया। जांच दल में शामिल ग्वालियर के क्षेत्रिय प्रबंधक के एस बंजारा, जिला आपूर्ति निगम बालाघाट के जिला प्रबंधक एम एस तोमर, अशोकनगर प्रबंधक आर एस सोलंकी तथा गुणवत्ता नियत्रंक एल एन गुप्ता भोपाल द्वारा सेंपल लेकर जांच प्रतिवेदन भोपाल मुख्यालय को सौंप दिया है।

के एस बंजारा के अनुसार बालाघाट से भेजी गई चावल की खेप पूरी तरह निर्धारित क्वालिटी के मापदण्ड पर खरी नही उतर रही पूरा चावल अमानक स्तर का है। इसी वजह से चावल के वितरण पर रोक लगाई है। उन्होने यह भी कहा की खराब क्वालिटी के चावल की जितने बार भी जांच कराई जायेगी वह खराब ही निकलेगा। स्टाक रखे रहने से उसकी क्वालिटी में सुधार होने वाला नही है। इसी वजह से अशोकनगर जिले में विवादित चावल के वितरण पर रोक लगा दी गई है।

आज बालाघाट जिला कलेक्टर श्री भरत यादव ने पत्रकारवार्ता में स्पष्ट कर दिया की जिले से अशोकनगर भेजे गये अमानक चावल की क्वालिटी खराब पाये जाने पर जिला प्रशासन कडी कार्यवाही करेगा। इसमें संलिप्त राईस मिलर्स तथा अधिकारी एंव भण्डारन करने वाले जो भी शामिल होगा उसके विरूद्ध कडी कार्यवाही की जायेगी उनके विरूद्ध आवश्यक हुआ तो एफआईआर भी दर्ज कराई जा सकती है।

श्री भरत यादव ने कहा की कटंगी के गोदामों में 2 वर्ष पूर्व खरीदे गये चावल जिसे अखादय तथा उपयोग के नाकबिल बताया गया है ऐसे चावल की खरीदी में अधिकारी, राईस मिलर्स तथा गोदाम प्रभारी की लापरवाही जांच के दौरान प्रकाश में आई है। इस मामले में भी कडी कार्यवाही हेतु शासन को लिख गया है। इस मामले में भी शासन के निर्देश पर संलिप्तों के विरूद्ध एफआईआर कराई जायेगी। उन्होने स्पष्ट कर दिया की चावल खरीदी के मामले में किसी भी तरह क्वालिटी के नाम पर कोई छूट नही दी जा सकती।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week