SURYA MITRA VACANCY: यूपी में 25000 सरकारी नौकरियां

Thursday, April 13, 2017

लखनऊ। उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार एक साथ 25000 सरकारी नौकरियां लाने जा रही है। मई में 10 हजार नौकरियों के लिए आवेदन मंगाए जाएंगे। इसके बाद शेष 15000 भर्तियां की जाएंगी। इस संदर्भ में सभी तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं। पिछले दिनों अधिकारियों ने सीएम के सामने प्रेजेंटेशन दिया और अप्रूवल प्रक्रियाएं पूरी कर ली गईं। सभी नौकरियां यूपीनेडा डिपार्टमेंट में दी जाएंगी। इसके लिए ग्रेजुएट एवं पोस्ट ग्रेजुएट अभ्यर्थी अप्लाई कर सकेंगे। 

सरकार और डिपार्टमेंट से जुड़े से सूत्रों ने बताया, "योगी सरकार 2 महीने के अंदर 25 हजार युवाओं को सरकारी नौकरी देने के मूड में है। शुरुआत 10 हजार वैकेंसी से की जाएगी। बता दें कि सूर्यमित्र वैकेंसी यूपीनेडा डिपार्टमेंट की है, जिसमें सोलर पावर प्लान्ट भी आता है। वैकेंसी के जरिए ग्रुप-बी, सी और मार्केटिंग टीम से रिलेटेड कैंडिडेट का रिक्रूटमेंट होगा।

क्या है यूपीनेडा?
यूपीनेडा (उत्तर प्रदेश न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी) यूपी सरकार का एक्सट्रा एनर्जी रिसोर्स डिपार्टमेंट है। इसका काम सोलर एनर्जी, बायो एनर्जी, विंड पावर, माइक्रो हाइड्रो पावर और एनर्जी कन्जर्वेशन के काम को प्रमोट करना है। यूपीनेडा केंद्र और यूपी सरकार की ज्वाइंट एजेंसी के तौर पर काम करती है और सोलर प्रोजेक्ट्स को प्रमोट करती है।

एक महीने में ही पूरा होगा प्रॉसेस
सूत्रों के मुताबिक, मई के पहले हफ्ते में 10 हजार यूथ के लिए वैकेंसी आएगी। तीसरे हफ्ते तक इनकी स्क्रीनिंग और आखिरी हफ्ते तक एग्जाम कराया जाना तय है। इसके बाद सिलेक्टेड कैंडिडेट्स को कुछ दिनों की डिपार्टमेंटल ट्रेनिंग देने के बाद उन्हें काम के हिसाब से अलग-अलग इलाकों में भेज दिया जाएगा।

योगी ने ही दिया सूर्यमित्र नाम
सूर्यमित्र वैकेंसी के नाम को लेकर काफी चर्चा है। कहा जा रहा है कि पहली बार किसी वैकेंसी का नाम इस तरह से नेचर के नाम से जोड़कर रखा गया है। सरकार से जुड़े एक सूत्र ने बताया, जिस वक्त डिपार्टमेंटल प्रेजेंटेशन दी गई थी, उस वक्त वैकेंसी को लेकर कई नाम दिए गए थे, लेकिन यूपीनेडा के काम और वैकेंसी के लिए सुझाए गए नामों का मैच नहीं हो रहा था। इसके बाद सीएम योगी ने बीच प्रेजेंटेशन में कहा, "जब आपका काम प्राकृतिक ऊर्जा से रिलेटेड है और आप सूर्य का इस्तेमाल कर बिजली बनाते हो, प्रकृति को बचाते हो तो इससे जोड़कर ही कोई नाम रखो। इस पर भी जब सब शांत रहे तो सीएम ने ही कहा- इस वैकेंसी का नाम सूर्यमित्र रखा जाना चाहिए।

ग्रैजुएट से पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री वाले कर सकेंगे अप्लाई
सूर्यमित्र वैकेंसी मार्केटिंग और मॉनिटरिंग को ध्यान में रखकर निकाली जा रही है। इसमें कई तरह की जॉब्स होंगी। मार्केटिंग में सोलर पावर के साथ-साथ एरिया वाइज दूसरे नैचुरल एनर्जी सोर्सेस को प्रमोट करने का काम होगा। इसमें ग्रैजुएट से लेकर पोस्ट ग्रैजुएट तक के युवा अप्लाई कर सकेंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week