सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को महल में बुलाकर अपने हाथों से चाय पिलाई - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को महल में बुलाकर अपने हाथों से चाय पिलाई

Saturday, October 15, 2016

;
ग्वालियर। यह वही महल है, जहां सिंधियां सांसद या मंत्री नहीं बल्कि महाराज होते हैं। इसके गलीचों में आते ही हरकोई 'मुजरा' करने लगता है। यहां लटके झूमरों ने बड़े बड़े दिग्गजों को यहां 90 डिग्री तक झुके हुए देखा है। इन दिग्गजों में अंग्रेज अफसरों से लेकर आजाद भारत के कई बड़े अफसर, नेता और कारोबारी शामिल हैं। आज इसी महल में सिंधिया कार्यकर्ताओं को अपने हाथों से चाय नाश्ता करा रहे थे। 

भिंड में हुई जन आक्रोश रैली की सफलता का श्रेय ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को दिया और शुक्रवार की शाम को कार्यकर्ताओं को जयविलास पैलेस में बुलाकर चाय-समोसे की पार्टी दी। अपने महाराज का न्यौता पाकर कांग्रेसी नेता गदगद हो गए। पैलेस में सिंधिया ने अपने हाथों से चाय पिलाकर कार्यकर्ताओं को लड्डू खिलाए। 

गुरुवार को भिंड में कांग्रेस ने भिंड में प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ एक जन आक्रोश रैली का आयोजन किया था। इस रैली में शामिल होने के लिए भिंड के साथ ग्वालियर के कार्यकर्ताओं ने जमकर उत्साह दिखाया और इसे सफल बनाया। इस रैली के लिए जब सिंधिया ग्वालियर से भिंड के लिए रवाना हुए तो रास्ते भर लोगों ने जमकर स्वागत किया। इस रैली में हजारों लोगों की भीड़ देखकर सिंधिया खुश हो गए और जोरदार तरीके से प्रदेश की भाजपा सरकार को कोसा।

बाद में इसका क्रेडिट सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को दिया और शुक्रवार की शाम को उनका धन्यवाद करने के लिए अपने महल में एक पार्टी का आयोजन किया। शुक्रवार शाम जयविलास पैलेस में जुटे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिंधिया को मालाओं से लाद दिया। ज्योतिरादित्य भी कार्यकर्ताओं से दूरी मिटा कर सब से व्यक्तिगत रूप से मिले और धन्यवाद दिया। सिंधिया ने कामयाबी का सेहरा कार्यकर्ताओं के सिर बांधते हुए उनका जोश बढ़ाया। सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को अपने हाथ से नाश्ते की प्लेट देनी शुरू की तो सबसे पहले की होड़ मच गई। हर कोई इस मौके को हासिल कर लेना चाहता था, ताकि सिंधिया के चले जाने की वजह से कोई मौका चूक न जाए। थोड़ी देर तक कार्यकर्ताओं को नाश्ता परोसने और उनके हालचाल जानने के बाद सिंधिया चले गए।
;

No comments:

Popular News This Week