400 स्वयंसेवकों का RSS से इस्तीफा

Thursday, September 1, 2016

नईदिल्ली। गोवा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के करीब 400 स्वयं सेवकों ने संघ छोड़ने की घोषणा की है। कहा है कि अगर वेलिंगकर को बहाल न किया गया तो वह अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए कार्य करेंगे। बता दें कि भाजपा का विरोध करने के कारण सुभाष वेलिंगकर को आरएसएस के प्रमुख पद से हटा दिया गया था। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को काले झंडे दिखाने के लिए सहयोगी संगठन भारतीय भाषा सुरक्षा मंच (बीबीएसएम) के कार्यकर्ताओं को निर्देश दिए थे।

आरएसएस ने कहा है कि वेलिंगकर राजनीतिक गतिविधियों में शामिल हो गए थे, जो हमारे संस्कार में शामिल नहीं है। नाराज आरएसएस कार्यकर्ताओं ने कहा है कि वेलिंगकर को उनके पद पर वापस भेजा जाए या उन सभी को भी जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए। अगर हमारी मांग पूरी नहीं की गई तो हम संगठन से इस्तीफा दे देंगे। कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधि के रूप में प्रवीण नेसवानकर ने यह बात कही है। इससे पहले बीती रात करीब तीन घंटे तक बैठक करके संघ कार्यकर्ताओं ने वेलिंगकर को हटाए जाने पर विरोध जताया।

उल्लेखनीय है कि वेलिंगकर बीबीएसएम के संयोजक हैं। यह संगठन क्षेत्रीय भाषाओं के विकास की मांग करते हुए अंग्र्रेजी माध्यम के स्कूलों को मिलने वाले अनुदानों का विरोध करता है। इस मुद्दे पर उसका भाजपा सरकार के साथ टकराव होता रहता है।

नेसवानकर ने कहा, अगर हमारी मांग पर ध्यान नहीं दिया जाता तो आरएसएस कार्यकर्ता राज्य में नए राजनीतिक मोर्चा बनाएंगे और अगला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। हम भाजपा को हराएंगे। लेकिन संगठन के पूर्व जिला प्रमुख कृष्णाराज सुकेरकर ने विश्वास जताया है कि वेलिंगकर खुद कभी भी चुनाव नहीं लड़ेंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं