एक टीचर ने बदल दी इस लड़की की जिंदगी, गूगल ने दिया 40 लाख का पैकेज

Thursday, August 4, 2016

;
नईदिल्ली। पंजाब के एक शहर मोहाली में आज खुशी की लहर है, इसलिए नहीं कि इसके स्टेडियम में कुछ नया होने वाला है बल्कि इसलिए क्योंकि मोहाली की बेटी को गूगल ने 40 लाख का पैकेज आॅफर किया है। सेक्टर-69 स्थित शेमरॉक सीनियर सेकंडरी स्कूल की स्टूडेंट्स वान्या जुहाल चयन गूगल के सिडनी ऑफिस के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में हुआ है। वान्या ने अपनी इस सफलता का श्रेय स्कूल टीचर और मां को दिया है। उसका कहना है कि यदि स्कूलिंग सही हो और पेरेंट्स हेल्पिंग नेचर के हों तो जिंदगी में कुछ भी किया जा सकता है। 

गूगल ने वान्या को सालाना 40 लाख रुपए का पैकेज दिया है। वान्या ने स्कूलिंग के बाद आईआईटी हैदराबाद से प्रोफेशनल डिग्री वर्ष 2016 में हासिल की है, जबकि उनका गूगल में सलेक्शन पढ़ाई करते समय ही हो गया था। उन्होंने कहा कि स्कूल टीचर परनीत सोहल ने करियर बनाने के लिए काफी प्रेरित किया। हाल ही में वान्या को उनकी इस सफलता पर स्कूल की तरफ से सम्मानित किया गया। वान्या की मां जर्नलिस्ट हैं और उनके पापा सेना में कर्नल हैं।

काफी मेहनत के बाद पाया मुकाम
वान्या ने मीडिया से कहा कि किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। उन्होंने कहा कि अगर स्कूल में बेहतरीन एजुकेशन मिले तो जिंदगी में मंजिल हासिल करना आसान हो जाता है। इतना ही नहीं, किसी भी बच्चे की सफलता में उसके माता-पिता का भी अहम योगदान होता है।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week