अलीगढ़ में 3 गायों की हत्या कर मांस उतार ले गए

Saturday, August 13, 2016

;
नईदिल्ली। गौरक्षा के ताजा विवाद के बीच उत्तरप्रदेश से खबर आ रही है कि अलीगढ़ महानगर से सटे क्वार्सी के गांव ईकरी के खेतों में तीन गायों की हत्या कर उनका मांस उतार लिया गया। ग्रामीण एकत्र होकर हत्यारों तक पहुंच पाते उससे पहले ही वो फरार हो गए लेकिन अवशेष वहीं छूट गए। अब भाजपा और हिंदू संगठनों के नेताओं का आना शुरू हो गया है। इलाके में तनाव बढ़ता जा रहा है। पुलिस ने इस मामले में एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा था परंतु एक बड़े सपा नेता ने उसे छुड़ा लिया। 

बोनेर-ओजोन सिटी के मध्य बसे गांव ईकरी के पास सुबह पांच बजे बिल्ला ठाकुर के अरहर के खेत में ग्रामीणों को एक मैक्स गाड़ी दिखाई दी। उसकी लाइट जली हुई थी। खटपट की आवाज सुन ग्रामीणों को शक हुआ। इस पर ग्रामीण खेत की तरफ पहुंचे तो ग्रामीणों को देख मैक्स सवार गोतस्कर मैक्स लेकर फरार हो गए। ग्रामीणों ने अरहर के खेत में घुसकर देखा तो तीन गायों के अवशेष पड़े थे। यह देख ग्रामीणों का गुस्सा भड़क गया।

देखते ही देखते काफी संख्या में भीड़ एकत्रित हो गई। खबर मिलते ही भाजपा नेता शल्यराज सिंह, मानव महाजन, हिंदूवादी नेता रामकुमार आर्य, सुधीर राघव, भोला ठाकुर, प्रधान राकेश कुमार आदि पहुंच गए। हिन्दूवादी नेताओं ने ग्रामीणों के साथ पुलिस प्रशासन के खिलाफ  नारेबाजी शुरू कर दी और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। इसी बीच खबर पर सीओ तृतीय राजीव सिंह, एसओ क्वार्सी विनोद यादव मय पुलिस व क्यूआरटी के मौके पर पहुंच गए। यहां हंगामा कर रही भीड़ को समझाने की कोशिश की गई। जहां ग्रामीणों से नोक-झोंक हो गई। बाद में सीओ ने सात दिन के अंदर आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर लोगों को शांत किया। 

लगाई सर्विलांस टीम संदिग्ध सपा नेता ने छुड़वाए
ईकरी के खेतों में गोकशी की घटना के बाद सीओ ने सर्विलांस टीम को मौके पर ले जाकर जांच पड़ताल कराई और टीम को इसके खुलासे में लगाया है। वहीं थाना पुलिस ने कुछ चिह्नित संदिग्ध भी हिरासत में लिए, जिन्हें एक सत्ताधारी पार्टी के नेता के दबाव में आकर पुलिस को छोड़ना पड़ गया। इस बात को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week