दिग्विजय सिंह जी, अपना अरण्य रुदन बंद कीजिए - Khula Khat by Surendra Shivpuri

दिग्विजय सिंह जी आज सोशल मीडिया पर ईवीएम को लेकर आपका "अरण्य रुदन" देखा,आपके लिये तो ईवीएम खराब होगी ही क्योंकि आप लगातार दो चुनाव हार चुके हैं आपके लिये तो "अंगूर खट्टे हैं"।

कपिल सिब्बल का संसद में दिया गया बयान याद करो

में आपका ध्यान ईवीएम को लेकर संसद में हुई बहस पर दिलाना चाहता हूं तब आपकी सरकार के मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा था "ईवीएम एक केलकुलेटर है, ईवीएम में बाहर से कोई कनेक्टिविटी नहीं है,ईवीएम का चिप सिर्फ इस तरह से बनाया गया है कि बटन दबाने के कमांड को ही याद रखता है। ईवीएम न ब्लूटूथ से कनेक्ट हो सकता है ना किसी एक्सटर्नल डिवाइस से कनेक्ट हो सकता है। आप लोग(बीजेपी) ईवीएम पर इसीलिए शोर मचा रहे हो क्योंकि आप लोगों का कोई जनाधार नहीं है आप लगातार दो बार लोक सभा चुनाव हार चुके हो"। 

दिग्विजय सिंह जी, आप तो बैलेट पेपर से चुनाव चाहेंगे ही क्योंकि मुख्यमंत्री रहते हुये आपने कहा था चुनाव विकास से नहीं मैनेजमेंट से जीते जाते हैं। 1996 के राजगढ़ लोकसभा चुनाव में, मैं भी था। तब कैसे आपके समर्थकों ने आतंक मचाया था, बूथ लूटे गए थे, मत पत्र फाड़े गए थे, भाजपा कार्यकर्ताओं को मार मार कर भगाया गया था, मत पेटियां छीन कर कुंए में फैंकने की घटनाएं भी आपकी ही सरकार के समय हुई थी।

दिग्विजय सिंह जी, इसी ईवीएम से हुये चुनाव में हिमाचल और कर्नाटक में आपकी सरकार बनी है। लोकसभा चुनाव में आपकी पार्टी 99 सीट पर पहुंची है आपके शिष्य राहुल गांधी दो दो जगह से चुनाव जीते हैं, आप तो जरा यह भी बता दीजिए कि ईवीएम में ऐसी छेड़छाड़ कैसे संभव है कि आपके भाई लक्ष्मण सिंह 65000 से चुनाव हार गये और आपका बेटा 4000 से चुनाव जीत गया।

अच्छा तो यह होगा कि आप जनादेश को स्वीकार कीजिए और लोकतंत्र का सम्मान कीजिए और ईवीएम को लेकर यह "अरण्य रुदन" बंद कीजिए। ✒ पत्र लेखक श्री सुरेंद्र शर्मा भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्य समिति सदस्य एवं राजगढ़ जिले के प्रभारी हैं। 

अस्वीकरण: खुला-खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। पत्र लेखक के विचार उसके निजी होते हैं। यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com 

विनम्र अनुरोध🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। इसी प्रकार मध्य प्रदेश के कुछ जागरूक नागरिकों द्वारा उठाए गए मुद्दों को पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में  KhulaKhat पर क्लिक करें।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !