BHOPAL NEWS - अपने साम्राज्य का सीमांकन करने निकले शेर खान, रायसेन रोड का ट्रैफिक जाम

बाघ अब बड़ा हो गया है। इसलिए अपनी मां और भाई बहनों से अलग होकर अपने साम्राज्य का सीमांकन करने निकल पड़ा है। आज से वह जंगल का राजा हो गया है। इस प्रक्रिया के दौरान जब भोपाल रायसेन रोड से गुजरा तो ट्रैफिक जाम हो गया। वैसे भोपाल वालों के लिए यह कोई नई बात नहीं है लेकिन रायसेन रोड पर अप डाउन करने वालों के लिए थोड़ा नया है। 

टाइगर अपनी टेरिटरी का निर्धारण कैसे और कब करता है

इस बाघ की उम्र 4 साल हो गई है। यही समय होता है जब बाघ अपनी टेरिटरी यानी इलाका अथवा साम्राज्य बनाता है। जंगल की जितनी जमीन पर वह चक्कर लगा लेता है, उतना जंगल उसका हो जाता है और वह उस जंगल का राजा बन जाता है। सोमवार को रायसेन रोड पर यही प्रक्रिया चल रही थी। शेर खान अपने साम्राज्य का सीमांकन कर रहे थे। ऐसा करते हुए जब वह भोपाल रायसेन रोड पर आए तो लोग दहशत में आ गए। अचानक ट्रैफिक जाम हो गया, लेकिन शेर खान तो शेर खान है। उसे कोई फर्क नहीं पड़ा। उसने भीड़ की तरफ देखा और फिर आगे बढ़ गया। यह घटना सुबह करीब 10:00 बजे नीमखेड़ी कुसियारी इलाके की है। यह इलाका आज के बाद से शेर खान की टेरिटरी है। वह अक्सर अपनी टेरिटरी के बॉर्डर पर गश्त करता रहता है। 

नीमखेड़ा कुसियारी निवासी फैज अली ने बताया कि जब वे घर जा रहे थे तब उन्हें पुलिया पर बाघ दिखाई दिया। रायसेन डीएफओ विजय कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने इलाके में लोगों को घर में ही रहने की मुनादी कराई। भोपाल फॉरेस्ट सर्किल के सीसीएफ राजेश खरे ने बताया कि यह गांव भोपाल वन डिवीजन और रायसेन वन डिवीजन की सीमा पर है। 

टाइगर अथवा बाघ के बारे में रोचक जानकारी

  • टाइगर के शरीर का वजन काफी ज्यादा होता है इसलिए वह दूर तक दौड़ नहीं सकता। 
  • टाइगर को व्याघ्र भी कहते हैं और यह अपनी प्रजाति का सबसे बड़ा एवं ताकतवर जानवर है। 
  • टाइगर केवल भारत की भूमि पर रहना पसंद करते हैं। इसी देशभक्ति के कारण टाइगर भारत का राष्ट्रीय पशु है। 
  • पूरी दुनिया में लगभग 6000 टाइगर है जिसमें से 4000 भारत में है।
  • टाइगर की अधिकतम लंबाई 13 फुट और वजन 300 किलो तक हो सकता है। 
  • बाघ का वैज्ञानिक नाम "पेंथेरा टिग्रिस" (Panthera tigris) है। 
  • टाइगर को इंसानों से दोस्ती करना पसंद है परंतु उनके पालतू जानवरों को खा जाता है। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !