BHOPAL NEWS - कचरे का ढेर बनता जा रहा था शहर, सफाई के लिए 6500 कर्मचारी लगाने पड़े

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में श्रीमती मालती राय के महापौर बनने के बाद से लेकर अब तक शहर की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। विधानसभा चुनाव के दौरान सफाई पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। भोपाल शहर कचरे का ढेर बनता जा रहा था। शुक्र है प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी शपथ ग्रहण समारोह में आए। उनके दर से नगर निगम ने विशेष सफाई अभियान चलाया। शहर में सामान्य साफ सफाई के लिए 6500 कर्मचारी लगाने पड़े। 

शहर की चार हाई प्रोफाइल सड़कों पर 100 टन ग्रीन वेस्ट

स्थिति कितनी गंभीर हो गई थी इसका अनुमान आप केवल एक आंकड़े से लगा सकते हैं। भोपाल शहर की सबसे हाई प्रोफाइल सड़क, VIP रोड एवं लिंक रोड नंबर 1,2,3 पर जब ठीक प्रकार से सफाई की गई तो केवल ग्रीन वेस्ट का वजन 100 टन से ज्यादा था। अन्य आसपास के इलाकों से करीब 50 टन अतिरिक्त कचरा निकल गया। इस प्रकार भोपाल के हाई प्रोफाइल इलाके में 150 टन कचरा जमा हो चुका था। जिसे साफ करने के लिए विशेष अभियान चलाना पड़ा। 

चौराहों पर प्रतिमाओं की धुलाई पर 70 टैंकर पानी खर्च हुआ

उपायुक्त योगेंद्र पटेल ने बताया कि राजाभोज की प्रतिमा समेत सभी महापुरुषों की प्रतिमाओं को पानी से धोया गया है। इनके अलावा प्रमुख मार्गों के फुटपाथ, सेंट्रल वर्ज, साइड वर्ज और मीडियन भी धुलवाए हैं। इसके लिए शहर को आठ सेक्टर में बांटा गया था। प्रत्येक सेक्टर में दो टैंकर तैनात किए गए थे। प्रत्येक टैंकर को चार-चार बार भरा गया। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।
Tags

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !