BHOPAL NEWS - हाई अलर्ट के बावजूद डकैती, डिफेंस से रिटायर्ड ऑफिसर के हुई वारदात

प्रदेश में चुनाव चल रहे हैं। जिला पुलिस सहित भारी संख्या में अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात है। भोपाल की सीमाएं सील कर दी गई है। 19 चेकपोस्ट बने हुए हैं। इस सबके बावजूद करीब आठ डाकुओं का एक गिरोह कान्हासैंया स्थित आईटीबीपी कैंपस के नजदीक राजधानी परिसर फेज-2 तक पहुंच गया। यहां उन्होंने डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (डीआरडीओ) के रिटायर्ड अफसर आरपी बिरमानी के घर हमला कर डकैती डाली, और पुलिस की आंखों के सामने से फरार हो गए। 

चोरी करने आए हैं‌, दरवाजा खोलो- रात 2:00 बजे दरवाजा खटखटाया

आरपी बिरमानी के बेटे शालिन ने बताया कि पिता जी ने डकैती के लिए घर में घुसने का प्रयास कर रहे बदमाशों से सात मिनट बात की। रात 2 बजे बदमाशों ने उनके घर का दरवाजा खटखटाया था। जब पिता जी ने पूछा कौन हो? तो बदमाशों ने जवाब दिया कि चोरी करने आए हैं‌, दरवाजा खोलो। सात मिनट की बातचीत के दौरान बिरमानी ने पुलिस को बुलाने की धमकी दी, इसके बाद भी बदमाश गेट पर डटे रहे।

धमकी से डरे नहीं, हमलावर हो गए

जब बिरमानी ने अपने बेटे को बोला कि मेरी बंदूक तो ला इन्हें गोली मांरू। तो जवाब में बदमाश बोले-अंकल तुम क्यो गोली मारोगे, हम अंदर आ गए तो तुमको जरूर मार देंगे। बदमाशों ने खिड़की का लाॅक तोड़कर उसे खोला और गुलेल से पत्थर मारने लगे। खुद को बचाने के लिए मैं और पिता जी कमरे में बंद हो गए।शालिन ने बताया कि बदमाश खिड़की की ग्रिल कटर से काटने के बाद अंदर घुस आए। बाहर से गमला लेकर आए उसे दरवाजे पर मारा। बदमाश दरवाजे को जोर-जोर से धक्का दे रहे थे। हम दोनों दरवाजे से टिककर खड़े थे। बदमाशों ने एक भारी पत्थर दरवाजे पर मारा। इसके बाद हमने दो अलमारियों को दरवाजे से टिकाया।

13 मिनट में पुलिस पहुंच गई, जान बचाई

मैंने 2:07 मिनट पर डायल-100 को काॅल किया। इस बीच बदमाश बोले कि बाहर से खिड़की की ग्रिल काटकर कमरे में जाओ, वह हमें खत्म करना चाहते थे। इस बीच 2:17 बजे डायल-100 से काॅल आया उनको लोकेशन बताई और तीन मिनट में डायल-100 की एफआरवी आ गई थी।

भोपाल में डकैत गिरोह ने ने पहले खेत में बैठकर शराब पी

एफआरवी ने बताया कि तीन गाड़ियों से बदमाश भाग रहे थे, उन्हें कट मारा तो वह दो गाड़ियां छोड़कर भाग गए। शालिन ने पुलिस को बताया कि वह मेन गेट पर ताला लगाना भूल गए थे। बिलखिरिया पुलिस के मुताबिक बदमाश एक खेत की फेंसिंग काटकर राजधानी परिसर में आए थे। खेत में पुलिस को शराब की खाली बोतल और गिलास भी मिले हैं। माना जा रहा है कि बदमाश खेत में बैठकर रेकी कर रहे थे। पुलिस को तीसरी गाड़ी सूखी सेवनिया में मिली है। 

पुलिस 13 मिनट में आई, डकैतों ने 10 मिनट में वारदात कर डाली 

जिस प्रकार से डकैती की वारदात को अंजाम दिया गया है। बिल्कुल स्पष्ट हो जाता है कि गिरोह पेशेवर है। उसे मालूम है की दहशत कैसे फैलाते हैं और यह भी मालूम है कि पुलिस कितनी देर में आएगी और पकड़ने की कोशिश करेगी या नहीं।  पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !