कड़की में कांग्रेस, खर्चों में कटौती के निर्देश, पार्टी अब चाय भी नहीं पिलाएगी- INC NEWS

नई दिल्ली।
कांग्रेस पार्टी का खजाना खाली हो गया है। पार्टी के तमाम नेता दावा कर रहे हैं कि वह देश के हित में काम कर रहे हैं फिर भी कोई कांग्रेस पार्टी का समर्थन नहीं कर रहा। आम नागरिकों से चंदा लेकर अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी बना दी लेकिन कांग्रेस पार्टी को कांग्रेस की विचारधारा मानने वाले लोग भी चंदा नहीं दे रहे हैं। नतीजा, पेट काटकर पार्टी का काम करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

पेट काटकर कांग्रेस पार्टी का काम करने के निर्देश जारी 

कांग्रेस के कोषाध्यक्ष पवन बंसल ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पदाधिकारियों को ख़र्चों में कटौती करने के निर्देश दिए है। सचिवों को 15-20 दिन अपने राज्य में गुजारने होगे।सचिवों को 1400 km तक का रेल भाड़ा दिया जाएगा। उसके ऊपर की दूरी के लिए सबसे सस्ती जहाज की टिकट दी जाएगी। इसके अलावा चाय,खानपान और दफ़्तर खर्चे भी कम करने के निर्देश दिए गए हैं। सांसद और महासचिव अपने ख़र्चे खुद करें। वे महासचिव जो सांसद है सरकारी सुविधाओं का उपयोग करें और ख़र्चों में कटौती करने के लिए सुझाव माँगे गए हैं।

भारत जोड़ो यात्रा का खर्चा पार्टी पर भारी पड़ गया 

कांग्रेस पार्टी से जुड़े कुछ सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस पार्टी पहले से ही कड़की में चल रही थी। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का खर्चा पार्टी पर काफी भारी पड़ गया है। जहां तक संभव हो सका यात्रा का खर्चा टिकट और पार्टी में पद की आकांक्षी नेताओं पर डाला गया। इसी के चलते मध्यप्रदेश में राहुल गांधी को कमलनाथ के साथ वह फोटो भी खिंचवाने पड़े जो, राहुल गांधी शायद नहीं चाहते थे। इसके बावजूद भारत जोड़ो यात्रा के कारण कांग्रेस पार्टी का खजाना खाली हो गया।