MP NEWS- सागर का सीरियल किलर क्या मैसेज देना चाहता है, क्या कोई खेल भी खेल रहा है

मध्य प्रदेश के सागर जिले का सीरियल किलर दुनिया भर में चर्चित हो गया है। इसका कारण यह है कि वह ना तो किसी को लूट रहा है और ना ही जो सामने आए उसकी हत्या कर रहा है बल्कि वह केवल ड्यूटी पर सो रहे सिक्योरिटी गार्ड को मारता है। किसी हथियार का उपयोग नहीं करता। मौके पर जो भी मिल जाए उसे हथियार बना लेता है। सवाल यह है कि सागर मध्य प्रदेश का सीरियल किलर क्या मैसेज देना चाहता है। 

सागर का सीरियल किलर सिर्फ सोते हुए सिक्योरिटी गार्ड को मारता है

सागर पुलिस के अनुसार यह व्यक्ति अब तक 4 हत्याएं कर चुका है। चारों सिक्योरिटी गार्ड है और हत्या रात के समय तब हुई जब वह ऑन ड्यूटी से परंतु सो रहे थे। 
  • कैंट थाना क्षेत्र के भैंसा में कारखाने में सो रहे चौकीदार कल्याण सिंह लोधी, उम्र 57 साल के सिर पर इतनी जोर से हथोड़ा मारा कि उसकी मौत हो गई। 
  • आर्ट एण्ड कॉमर्स कॉलेज परिसर में सो रहे चौकीदार शंभू दयाल दुबे उम्र 60 वर्ष के सिर पर पत्थर पटक दिया जिससे उनकी मृत्यु हो गई। 
  • एक under-construction मकान में सो रहे सुरक्षा गार्ड मंगल अहिरवार के सिर पर पूरी ताकत से फावड़ा मार दिया। जिससे उसकी मृत्यु हो गई। 
  • मकरोनिया थाना क्षेत्र में अंडर कंस्ट्रक्शन ब्रिज के सिक्योरिटी गार्ड उत्तम रजक उम्र 58 वर्ष, जब ऑन ड्यूटी सो रहे थे तो उनके सिर पर डंडे से एक से अधिक वार किए गए। जिससे उनकी मृत्यु हो गई। 

सिर्फ एक सवाल जिसका जवाब नहीं मिल रहा है

यह सब कुछ बिल्कुल वैसा ही बुरा है जैसा किसी फिल्म की कहानी या उपन्यास में होता है। शायद सिक्योरिटी गार्ड के सोने से उसके जीवन में कोई ऐसी घटना घटित हुई है, जिससे किसी भी सुरक्षाकर्मी को सोते हुए देखकर उसका खून खौल उठता है और वह अपने नियंत्रण से बाहर हो जाता है। वह चोरी नहीं करता, लूटपाट नहीं करता लेकिन एक सवाल है जिसका जवाब नहीं मिल रहा। हमला करने के बाद वह सिक्योरिटी गार्ड का मोबाइल फोन ले जाता है और फिर अगला हमला करने के बाद पिछले वाले सिक्योरिटी गार्ड का मोबाइल फोन वहां पर छोड़ जाता है। पुलिस और मध्य प्रदेश के धुरंधर क्राइम रिपोर्टर अब तक समझ नहीं पाए हैं कि वह मोबाइल फोन के साथ पासिंग पास जैसा गेम क्यों खेल रहा है।