DAVV NEWS- सप्लीमेंट्री में भी सप्लीमेंट्री आएगी, कॉलेज स्टूडेंट्स फेल नहीं होंगे- new education policy

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी एवं इससे संबंधित सभी कॉलेजों के उन स्टूडेंट्स के लिए गुड न्यूज़ है जिन्हें या तो पढ़ाने के लिए प्रोफेसर ही नहीं मिले या फिर अच्छे प्रोफेसर नहीं मिले। ऐसे स्टूडेंट्स अक्सर अच्छे नंबर नहीं ला पाते। कई बार सप्लीमेंट्री भी आ जाती है और क्योंकि गाइडेंस नहीं मिलता इसलिए सप्लीमेंट्री में फेल हो जाते हैं लेकिन अब टेंशन वाली बात नहीं है। सप्लीमेंट्री में भी सप्लीमेंट्री आएगी। कोई फेल नहीं होगा। 

इंडिया की न्यू एजुकेशन पॉलिसी के तहत पहली परीक्षा के रिजल्ट काे लेकर एक इंर्पोटेंट डिसीजन लिया गया है। बीबीए, बीकॉम, बीए और बीएससी फर्स्ट ईयर एग्जामिनेशन में जिन छात्रों की सप्लीमेंट्री (मैक्सिमम 4 सब्जेक्ट) आएगी वह दिसंबर में सप्लीमेंट्री एग्जाम देंगे, लेकिन यदि वह सप्लीमेंट्री एग्जाम में पास नहीं हुए तब भी उन्हें फेल नहीं माना जाएगा। अप्रैल के महीने में फिर से सप्लीमेंट्री एग्जाम दे सकते हैं।

DAVV के 81000 स्टूडेंट्स को फायदा मिलेगा

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के एग्जाम कंट्राेलर डॉ. अशेष तिवारी के अनुसार इसका फायदा फर्स्ट ईयर के 81 हजार छात्राें काे मिलने जा रहा है। साथ ही इससे छात्राें का दाे बार सारे विषयाें की परीक्षा देने का तनाव भी खत्म हाेगा। पहले छात्राें काे पांच में से एक विषय में पूरक मिलती थी। अब नाै में से चार में मिलेगी। ज्यादा विषयाें में पूरक मिलने से छात्र का साल खराब नहीं हाेगा। दिसंबर की परीक्षा में पास हाेंगे ताे तत्काल सेकंड ईयर में प्रवेश मिल जाएगा। उनका साल बचेगा। 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी- क्रेडिट के साथ पास फैल का कैलकुलेशन समझिए

फर्स्ट ईयर की मूल परीक्षा के रिजल्ट में जिन छात्राें काे कुल 40 क्रेडिट में से 19 या उससे कम आए ताे उसे पूरी तरह फेल माना जाएगा। फिर भले ही उसे एक ही विषय में पूरक आई हाे।
जिस छात्र का क्रेडिट 40 में से 20 से 39 तक रहा उसे अधिकतम चार विषय में पूरक का पात्र माना जाएगा।
जिस छात्र काे 40 क्रेडिट मिलेंगे, वह पास माना जाएगा।

DAVV NEWS- पास होने के लिए किस सब्जेक्ट में कितने नंबर चाहिए

बीकॉम, बीए, बीबीए और बीएससी फर्स्ट ईयर में 100 में से कुल 35 अंक लाना अनिवार्य हाेंगे।
थ्याेरी के 70 अंकाें के परचे में न्यूनतम 25 और इंटरनल में 30 अंकाें में से न्यूनतम 10 अंक लाना हाेंगे।
फाउंडेशन के चार विषयाें में हिंदी में 50 में से 17 और अंग्रेजी में 50 में से 18 अंक अनिवार्य लाना हाेंगे।
फाउंडेशन के ही दाे अन्य विषयाें में से इंवॉयरमेंट में 50 में से 17 और याेगा में 50 में से 18 अंक लाना हाेंगे। 

DAVV EXAM का पैटर्न बदल गया

परीक्षा में इस बार पैर्टन भी बदला गया था। इममें लघु उत्तरीय, अति लघु उत्तरीय व दीर्घ उत्तरीय के कुल 9 प्रश्न पूछे गए थे। 3 अंकाें के चार, सात अंकाें के 4 और 15 अंकाें के दाे प्रश्न पूछे गए।