मध्य प्रदेश मानसून- 13 जिलों में भारी बारिश होगी, मौसम बिगड़ता रहेगा- MP WEATHER FORECAST

भारत मौसम विज्ञान विभाग में मध्य प्रदेश के 13 जिलों में भारी बारिश होने की संभावना जताई है। विशेषज्ञों का कहना है कि 14 सितंबर तक मौसम लगातार बिगड़ता रहेगा। उल्लेखनीय है कि समुद्र में गतिविधियों के बदल जाने के बाद उठे बादलों ने मध्य प्रदेश के आसमान को घेर लिया है। विशेषज्ञों ने आज सुबह ही कहा था कि मौसम खराब हो रहा है स्थिति पूर्वानुमान से अलग भी हो सकती है।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- कहां-कहां खतरे की चेतावनी

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार छिंदवाड़ा, बैतूल, मंडला, सिवनी, बालाघाट, रायसेन, विदिशा, सागर, उज्जैन, देवास, खरगौन, अलीराजपुर व झाबुआ जिलों में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। आम नागरिक, यात्री एवं किसानों से अपील की गई है कि वह सावधान रहें। अपनी योजनाएं इस आधार पर बनाएं की मौसम बिगड़ने की स्थिति में नुकसान ना हो। 

मौसम विशेषज्ञों ने उपरोक्त के अलावा शहडोल, जबलपुर, भोपाल, नर्मदापुरम एवं इंदौर संभागों के जिलों में तथा उज्जैन, देवास, शाजापुर गुना व सागर जिलों में वज्रपात का खतरा बताया है। यानी मौसम खराब होने की स्थिति में किसी भी प्रकार की रिस्क ना लें। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बारिश हुई

पिछले 24 घन्टों के दौरान प्रदेश के उज्जैन संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर शहडोल, जबलपुर, सागर, नर्मदापुरम, इंदौर एवं भोपाल संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर तथा रीवा, ग्वालियर एवं चंबल संभागों के जिलों में कहीं कहीं वर्षा दर्ज की गई। वर्षा के प्रमुख आंकडे (सेमी मे):- घट्टिया 7, देपालपुर रानापुर 6 हाटपिपल्या 5 उदयनगर, खरगौन, शुजालपुर, गौतमपुरा, बागली व संगांव 4 सेमी।