श्री सत्यनारायण व्रत कथा का प्रसाद बनाने की विधि - Shri Satyanarayan vrat katha prasad Recipe

श्री सत्यनारायण भगवान की व्रत कथा पूरे भारत में की जाती है। इस कथा में प्रसाद का विशेष महत्व है। श्री सतनारायण व्रत कथा का प्रसाद बाजार में नहीं मिलता, इसे घर पर ही बनाना पड़ता है। आइए, भगवान श्री सत्यनारायण व्रत कथा का प्रसाद बनाना सीखते हैं। 


श्री सत्यनारायण व्रत कथा प्रसाद के Ingredients

1.आटा / रवा/ सूजी
2. शुद्ध देसी घी 
3. शक्कर 
4. Dry Fruits
5 तुलसी के पत्ते

Shri Satyanarayan vrat katha prasad Recipe

  • सबसे पहले एक कढ़ाई को गैस पर रखकर थोड़ा सा गर्म करें। 
  • फिर उसमें आधा कटोरी आटा/ रवा/ सूजी जो भी आपको डालना है,डाल दें और गैस सिम करके उसे उसे चलाते रहें। 
  • जब आटा थोड़ा गर्म हो जाए तो उसमें घी डाल दें (मुट्ठी बंधने लगे इतना घी डालें)। फिर थोड़ी देर और सिकने दें और जब सिकने की खुशबू आने लगे, हल्का सा ब्राउन कलर होने लगे तो गैस बंद कर दें। 
  • सनद रहे कि छेद वाली चम्मच या झरिया से आटे को ना चलाएं, वर्ना आटा पूरे में फैल जाएगा। इसके लिए कोई फ्लैट चम्मच लें। 
  • जब सिका हुआ आटा थोड़ा ठंडा हो जाए तो उसमें जितनी मात्रा में आटा लिया था, उतनी ही मात्रा में पिसी हुई शक्कर या बूरा मिलाएं और ड्राई फ्रूट, तुलसी के पत्ते जो भी आपको डालना है, डाल दें।