मध्य प्रदेश मानसून- बंगाल की खाड़ी से बादल निकल चुके हैं, 27 से बरसेंगे- MP WEATHER FORECAST

मध्य प्रदेश के 40 जिलों में आंधी, मूसलाधार बारिश और बाढ़ के बाद आज धूप खिली परंतु मौसम विभाग की ओर से जारी पूर्वानुमान चिंता बढ़ा रहा है। बंगाल की खाड़ी से बादल रवाना हो रहे हैं। 27 अगस्त को मध्यप्रदेश के आसमान पर आकर बरसने लगेंगे। 

भारत मौसम विज्ञान विभाग की ओर से जारी मौसम का पूर्वानुमान एवं किसान मौसम बुलेटिन के अनुसार केवल उज्जैन संभाग के सभी जिलों में सामान्य बारिश होगी। इसके अलावा शेष मध्य प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की फुल्की बारिश हो सकती है। पूरे मध्यप्रदेश में कहीं कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है। आसमान में रुक रुक कर सूरज चमक रहा है। लोग राहत की सांस ले रहे हैं। नदियों में जलस्तर कम हो रहा है। बाढ़ पीड़ितों को उम्मीद है कि जल्द ही घर वापस लौट पाएंगे। 

उम्मीद का सूरज और राहत की खबरों के बीच वरिष्ठ वैज्ञानिक वेदप्रकाश सिंह द्वारा दिया गया समाचार चिंता बढ़ाने वाला है। उन्होंने बताया कि बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बन गया है। 26 अगस्त को मध्यप्रदेश के आसमान पर बादल छा जाएंगे और 27 अगस्त से वर्षा शुरू हो जाएगी जो 31 अगस्त तक चलेगी। श्री सिंह का कहना है कि भोपाल एवं नर्मदा पुरम इलाकों में भारी बारिश होने की संभावना है जबकि इंदौर एवं उज्जैन संभाग में सामान्य बारिश होगी।