खंडवा में बाढ़ कई गांव खाली कराए, कई इलाकों से संपर्क टूटा- MP NEWS

खंडवा
। खंडवा की सुक्ता नदी में जलस्तर बढ़ जाने के कारण बांध फुल टैंक लेवल पर आ गया। पानी छोड़ने के कारण डाउनस्ट्रीम में बाढ़ की स्थिति बन गई। लोगों को बाढ़ से बचाने के लिए कई गांव खाली करवा दिए गए हैं। लगातार बारिश होने के कारण कई ग्रामीण इलाकों से संपर्क टूट गया है। 

मौसम विभाग ने आगामी एक-दो दिन और बारिश की संभावना जताई है। जिसको ध्यान में रखते हुए एसडीएम, तहसीलदार, पटवारी पुलिस और एनडीआरएफ की टीम द्वारा नदी के किनारे बसे हुए जसवाड़ी, बेड़ियांव, हापला, दीपला, खिड़गांव, भागफल, जामठि और पीपरहट्टी गांव के उन लोगों को गांव की स्कूल और पंचायत भवन में शिफ्ट कराया गया है। जिनके मकान नदी नालों की जद में आ रहे हैं।

खंडवा में बाढ़ के कारण क्या क्या प्रभावित हुआ

  • बैतूल-खंडवा मार्ग पर भी नदियों में बाढ़ से आवागमन पर ब्रेक लग गया।
  • खंडवा-बुरहानपुर रोड पर भी धामदेही नदी में आई बाढ़ से यातायात रुक गया है।
  • खंडवा में रविवार रात से सोमवार दोपहर तक लगातार हुई। जिससे आबना नदी में खतरे के निशान से ऊपर पानी बहा। खालवा, पंधाना, पुनासा व रोशनी ग्रामों से अन्य गांवों का संपर्क टूट गया। 
  • खंडवा शहर में लगातार वर्षा से कई जगह जलजमाव की स्थिति बनी। 
  • शिवाजी चौक पर जलजमाव की स्थिति पूरे दिन बनी रही। 
  • घासपुरा की अब्बास तैयब उर्दू प्राथमिक शाला के परिसर में पानी भर गया। 

  • खालवा की मांझरी नदी में बाढ़ के कारण सोमवार को ग्राम पंचायत सांवली खेड़ा के ग्राम गोमुख ढाना व रेवापुर ढाना का ग्राम पंचायत सहित खालवा से संपर्क टूटा गया। 
  • खालवा से जामधड़ मार्ग पर बारहधार नदी पर पिछले एक सप्ताह से बाढ़ व रपटा क्षतिग्रस्त होने से मार्ग बंद है। 
  • ग्राम रोशनी क्षेत्र के पिपल्या भोजू स्थित आंवलिया मध्यम सिंचाई योजना डेम ओवर फ्लो हो गया। घोड़ापछाड़ नदी के पुल पर बाढ़ आने के कारण सोमवार दिन भर यातायात बाधित रहा। 
  • ग्राम मोरगड़ी नदी के पुल पर पानी रहने के कारण आवल्या खिरकिया मार्ग भी बंद रहा।