अतिथि शिक्षकों की eKYC में लापरवाही, गंभीर परिणाम होंगे: DEO JABALPUR NEWS TODAY

जबलपुर। जिला शिक्षा अधिकारी घनश्याम सोनी ने एक पत्र जारी करके सभी संबंधित प्राचार्य को चेतावनी दी है कि यदि उन्होंने अतिथि शिक्षकों के सत्यापन के कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही की तो इसे कदाचरण माना जाएगा और इसके गंभीर परिणाम होंगे।

कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी, जबलपुर द्वारा समस्त प्राचार्य, शासकीय हाईस्कूल / हायरसैकण्ट्री स्कूल जिला जबलपुर के नाम जारी किए गए पत्र में लिखा है कि, विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था हेतु ऑनलाईन अतिथि शिक्षक प्रबंधन प्रणाली (GEMS) का उपयोग करते हुए नवीन पंजीयन, पूर्व पंजीयन आवेदन में eKYC तथा सत्यापन एवं पूर्व से सत्यापित आवेदन में संशोधन हेतु संकुल प्राचार्यों को दिनांक 11 जून 2022 तक सत्यापन करने निर्देश है।

यह संज्ञान लाया गया है कि इन निर्देशों का कुछ प्राचार्यों के द्वारा पालन नहीं किया जाकर अभ्यर्थियों को जिला कार्यालय में भेजा जा रहा है। यह कदाचरण है इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। आपको पुनः निर्देशित किया जाता है कि अतिथि शिक्षकों का सत्यापन कार्य निर्धारित तिथि तक पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें अन्यथा हेतु आप स्वयं उत्तरदायी होंगे। इसे प्राथमिकता प्रदान करें।