सभी सरकारी यूनिवर्सिटी में MBBS में एडमिशन मिलेंगे- MP College news

भोपाल
। मध्य प्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सरकारी विश्वविद्यालयों के साथ PPP मॉडल पर मेडिकल कॉलेज खोलने की योजना है। यदि यह योजना सफल होती है तो सभी सरकारी यूनिवर्सिटी में BSc की तरह MBBS में एडमिशन मिलेंगे। 

MBBS एडमिशन के मामले में उच्च शिक्षा मंत्री ने क्या कहा

विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन, जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर और बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल में पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज खोलने की योजना है। इसकी शुरुआत उन्होंने अपनी विधानसभा के विक्रम विश्वविद्यालय से की है। चिकित्सा शिक्षा विभाग के लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। 

बच्चों को यूक्रेन नहीं जाना पड़ेगा, गांव वालों को डॉक्टर मिल जाएगा

यदि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा के अनुसार मध्यप्रदेश में सरकारी यूनिवर्सिटी से सरकारी फीस पर बच्चों को MBBS की पढ़ाई का मौका मिलता है तो इसके 2 सबसे बड़े फायदे होंगे। पहला तो बच्चों को मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए विदेशों में नहीं जाना पड़ेगा और दूसरा मध्यप्रदेश शासन की निर्धारित शर्त के अनुसार सभी डॉक्टर सबसे पहले ग्रामीण क्षेत्रों में सेवाएं देंगे इसलिए गांव वालों को उनकी पहुंच के भीतर अच्छा डॉक्टर मिल जाएगा। उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें.