यूक्रेन वाला ऑपरेशन गंगा सफल, लगभग सभी छात्र युद्ध भूमि के बाहर भारतीय सुरक्षा घेरे में - India national News

नई दिल्ली।
यूक्रेन में फंसे हुए लगभग 20000 भारतीय नागरिकों, MBBS स्टूडेंट्स को युद्ध भूमि से सुरक्षित बाहर निकालने के लिए शुरू किया गया ऑपरेशन गंगा सफल हो गया है। लगभग सभी विद्यार्थी युद्ध भूमि के बाहर आ चुके हैं और भारतीय सुरक्षा के घेरे में हैं। विदेश मंत्रालय का कहना है कि शायद कुछ लोग अभी भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं। हम सीमा पर उनका इंतजार करेंगे। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने आज भारत की राजधानी दिल्ली में ऑफिशियल प्रेस ब्रीफिंग के दौरान बताया कि अगले 24 घंटों में 16 फ्लाइट भारत पहुंचने के बाद लगभग ऐसे सभी भारतीय भारत पहुंच जाएंगे जो यूक्रेन बॉर्डर पार करके पड़ोसी देशों में पहुंचे हैं। कुछ लोग अभी भी यूक्रेन में हैं। हम आगे भी लगातार फ्लाइट शेड्यूल करते रहेंगे। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि हमारी पहली एडवाइजरी जारी होने के बाद 20,000 से अधिक भारतीय नागरिक यूक्रेन से भारत लौटे हैं। ऑपरेशन गंगा के तहत 48 उड़ानें अब तक यूक्रेन से लगभग 10,348 भारतीयों को लेकर भारत पहुंचीं हैं। अगले 24 घंटों में 16 और फ्लाइट शेड्यूल हैं। 

विभिन्न टीवी चैनलों पर चल रहे समाचारों के अनुसार यूक्रेन में लगभग 20000 भारतीय विद्यार्थी फंसे हुए थे। इनमें से 18000 स्टूडेंट्स यूक्रेन की सीमा पार करके भारत के सुरक्षा घेरे में आ चुके हैं। सभी को लगातार यूक्रेन के बॉर्डर से भारत भेजा जा रहा है। विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा दिल्ली और मुंबई में स्टूडेंट्स के ठहरने की व्यवस्था की गई है। भारत की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया INDIA NATIONAL NEWS पर क्लिक करें.