भिंड कलेक्टर आपा खो बैठे, वकील और व्यापारी हिरासत में, हालात तनावपूर्ण- MP NEWS

ग्वालियर।
मध्यप्रदेश के भिंड जिला मुख्यालय पर रविवार को स्वच्छ भिंड मिशन के दौरान हंगामा खड़ा हो गया। कलेक्टर सतीश कुमार एस (IAS) आपा खो बैठे। कलेक्टर ने तीन बार कहा, मारो-मारो, गोली मारो। एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने सिचुएशन को कंट्रोल किया और कानून और व्यवस्था की स्थिति को बिगड़ने से बचाया। इस प्रक्रिया के दौरान एक वकील और 5 व्यापारियों को हिरासत में लिया गया। 

पॉइंट टू पॉइंट समझिए स्वच्छ भिंड मिशन में बवाल क्यों हुआ

- रविवार की सुबह कलेक्टर सतीश कुमार एस, एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान की मौजूदगी में स्वच्छता के लिए जागरूकता अभियान का कार्यक्रम निर्धारित था। 
- स्वच्छ भिंड मिशन के कार्यकर्ता निर्धारित समय अनुसार पहुंच गए थे। 
- कलेक्टर-एसपी और नगर पालिका सीएमओ सहित पूरी टीम आ गई थी। 
- कार्यक्रम शुरू हुआ, परेड चौराहा से सभी लोग सदर बाजार की ओर चले। 
- जागरूकता अभियान था लोगों को जागरूक किया जा रहा था। 

- थोड़ी दूरी के बाद ही अभियान की सूरत बदल गई। फुटपाथ पर रखिए दुकानदारों के काउंटर आदि जप्त किए जाने लगे। 
- स्वच्छ भिंड मिशन के कार्यकर्ता व्यापारियों को प्लास्टिक के बड़े डस्टबिन दे रहे थे लेकिन नगर पालिका के - कर्मचारी सड़क पर सामान रखने के एवज में चालान बना रहे थे। 
- कुछ दुकानों के बाहर टीनशेड दिखाई दिया। उसे हटाने के लिए JCB बुलवा ली गई। 
- स्वच्छ भिंड मिशन अभियान, अतिक्रमण हटाओ अभियान में बदल गया। 

- अचानक अतिक्रमण विरोधी अभियान के कारण दुकानदारों ने विरोध करना शुरू कर दिया। 
- एक व्यापारी सनी जैन की घर की तरफ से कुछ पत्थर आकर गिरे। 
- एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने पुलिस टीम का नेता तो करते हुए दुकानदार सनी जैन को हिरासत में ले लिया। 
- इसके बाद 4 और दुकानदारों को हिरासत में लिया गया। 
- हालात तनावपूर्ण हो चुके थे। जागरूकता के नाम पर कार्यवाही शुरू हो गई थी। 
- व्यापारियों के बुलाने पर पूर्व सासद डा. रामलखन सिंह पहुंचे, उन्होंने कलेक्टर से इस तरह कार्यवाही करने से मना किया लेकिन कलेक्टर नहीं माने। 
- कलेक्टर के रवैया के खिलाफ पूर्व सांसद धरने पर बैठ गए, कार्यवाही फिर भी नहीं रुकी। 

- इसी दौरान एडवोकेट विजय कुमार सोनी कुछ डाक्यूमेंट्स लेकर आ गए। वह अपनी दुकान पर चल रही कार्रवाई को रुकवा ना चाहते थे। 
- विजय कुमार सोनी तेज आवाज में बात कर रहे थे। इसी बात पर कलेक्टर अपना नियंत्रण खो बैठे। 
- एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने वकील विजय कुमार सोनी को हिरासत में लिया और हवालात भेज दिया। 
- मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें