MP EDUCATION PORTAL ठप- शिक्षा विभाग के लाखों कर्मचारियों का वेतन रुका

जबलपुर
। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के शिक्षक-अध्यापक प्रकोष्ठ के प्रांतांध्यक्ष मुकेश सिंह ने जारी विज्ञप्ति में बताया की विगत सात दिनों से एजुकेशन पोर्टल सुधार हेतु बन्द चल रहा है। 

प्रदेश में शिक्षकों एवं अन्य गैर शैक्षणिक संवर्ग के लोक सेवकों का वेतन देयक संकुल प्राचार्यो द्वारा सर्व प्रथम एजुकेशन पोर्टल पर जनरेट कर उसका प्रिन्ट BEO कार्यालय में प्रस्तुत करते हैं, तदोपरांत BEO द्वारा देयकों को एकत्र कर IFMIS के माध्यम से कोषालय में प्रस्तुत कर वेतन आहरित किया जाता है। विगत एक सप्ताह से एजुकेशन पोर्टल बन्द होने के कारण संकुल प्राचार्यो द्वारा एजुकेशन पोर्टल पर वेतन जनरेट नहीं किया जा सका है। 

पोर्टल का सुधार का काम वेतन के समय जानबूझ कर किया जाता है जिससे शिक्षा विभाग के लाखों कर्मचारी पेरशान हों , यही कार्य यदि माह की 10 से 20 तारिख के मध्य किया जाये तो ऐसी स्थिति निर्मित नहीं होगी वेतन में विलंब का सीधा असर शिक्षकों / कर्मचारियों पर पड़ता है उन्हें अनावश्यक बैंक अधिभार , स्कूल फीस , बिजली बिल जैसे महत्वपूर्ण जरूरतों पर भी अधिभार / अतिरिक्त शुल्क देना पड़ता है। 

संघ के मुकेश सिंह, मनीष चौबे, नितिन अग्रवाल, गगन चौबे, मनोज सेन, श्यामनारायण तिवारी, सोनल दुबे, विजय कोष्टी, प्रियांशु शुक्ला, प्रणव साहू, मनीष लोहिया, आदि ने आयुक्त लोक शिक्षण मध्य प्रदेश भोपाल से मांग की है कि एजुकेश पोर्टल को शीघ्र चालू कराकर कर प्रदेश के लाखों शिक्षकों / कर्मचारियों का माह फरवरी का वेतन भुगतान सुनिश्चित कराया जावे। मध्यप्रदेश कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.